समाचार स्वास्थ्य

आईसीएमआर की महानिदेशक ने देखी बीआरडी मेडिकल कालेज में इंसेफेलाइटिस के इलाज की व्यवस्था

इंसेफेलाइटिस के इलाज व उपकरणों की मरम्मत के सम्बन्ध में एकमुश्त बजट दिलाने का भरोसा दिलाया
गोरखपुर, 17 अगस्त। इंडियन काउंसिल आफ मेडिकल रिसर्च की महानिदेशक डा. सौम्या स्वामीनाथन ने आज सुबह आठ से दस बजे तक बीआरडी मेडिकल कालेज में इंसेफेलाटिस मरीजों के इलाज की व्यवस्था देखी। इस दौरान दवाओं और उपकरणों की मरम्मत के लिए बार-बार बजट की कमी की बात सामने आने पर उन्होंने आश्वासन दिया कि वह केन्द्र व प्रदेश सरकार से इस बारे में बात करेंगी और कोशिश करेंगी कि इंसेफेलाइटिस के इलाज से सम्बन्धित होने वाले खर्च के लिए एकमुश्त बजट आवंटित हो।
डा. सौम्या स्वामीनाथन इंसेफेलाइटिस पर बीआरडी मेडिकल कालेज में हो रही दो दिवसीय राष्टीय कार्यशाला में भाग लेने आयीं थी। इस कार्यशाला में इंसेफेलाइटिस के इलाज व रिसर्च से जुड़े चिकित्सकों व वैज्ञानिकों ने भाग लिया और इस रोग के रोकथाम पर चर्चा की।

94e9910e-26e9-4bd9-b418-d5f8a223222d
कार्यशाला के दूसरे दिन आज सुबह आठ डा. स्वामीनाथन अपनी टीम के साथ इंसेफेलाइटिस वार्ड पहुंची। वह करीब दो घंटे तक रहीं। इस दौरान उन्होंने इंसेफेलाइटिस मरीजों को देखा और उनके इलाज के बारे में जानकारी प्राप्त की। बीआरडी मेडिकल कालेज के बाल रोग विभाग की अध्यक्ष डॉ महिमा मित्तल सहित अन्य चिकित्सकों ने उन्हें विस्तार से इलाज के बारे में बताया। इस दौरान बार-बार दवाइयों, उपकरणों व उनकी मरम्मत, चिकित्सकों व पैरामेडिकल स्टाफ के वेतन के मद में मिलने वाले बजट की कमी की चर्चा हुई। बताया गया कि बजट किश्तों में मिलतता है, इसलिए इलाज की व्यवस्था में दिक्कत आती है। डा. स्वामीनाथन ने भरोसा दिलाया कि वह केन्द्र व प्रदेश सरकार को इस सम्बन्ध में रिपोर्ट देंगी और व्यवस्था ठीक कराने का प्रयास करेंगी।

Add Comment

Click here to post a comment