जनपद

ईवीएम हटाने की मांग को लेकर 72 घंटे का धरना-प्रदर्शन जारी

गोरखपुर, 27  मार्च। ईवीएम के खिलाफ “राष्ट्रव्यापी लोकतंत्र बचाओ आंदोलन” के तहत 72 घंटे का धरना-प्रदर्शन आज तीसरे दिन भी जिलाधिकारी कार्यालय पर जारी है।

भारत मुक्ति मोर्चा की अगुवाई में चल रहे इस आंदोलन में पूर्वांचल सेना, अम्बेडकरवादी छात्रसभा ,एकलव्य अधिकार मंच आदि संगठन शामिल हैं। धरना -प्रदर्शन में शामिल लोग  “निष्पक्ष चुनाव कराना है- बैलेट पेपर लाना है “, “लोकतंत्र बचाना है – ईवीएम को हटाना है”, “देश की जनता त्रस्त है- चुनाव आयोग भ्रस्ट है” का नारा लगा रहे हैं।

धरने में मौजूद लोगों को संबोधित करते हुए छात्र नेता डा0 हितेश सिंह सैथवार ने कहा कि जब ईवीएम निर्धारित 7 अंतर्राष्ट्रीय मानकों में से 2 महत्वपूर्ण मानक , “चुनाव में पुनर्मतगणना और वोटो के सत्यापन” को पूरा नहीं करता तो ऐसे में चुनाव आयोग ईवीएम मशीनो का प्रयोग क्यों कर रहा है ?
रास्ट्रीय अत्याचार निवारण शक्ति संगठन के जिलाध्यक्ष सचिन पासवान ने कहा कि लोकतंत्र में जनता वोट देकर अपना नेता चुनती है, लेकिन राजनितिक उपेक्षा के कारण 50% लोग ही बमुश्किल मतदान करते है, और आज ईवीएम में गड़बड़ी के कारण जब लोगो को पता चलेगा कि उनका वोट कही और जा रहा तो उनका विश्वास इस पूरी प्रक्रिया से उठ जाएगा।
पूर्वांचल सेना के अध्यक्ष धीरेन्द्र प्रताप ने कहा कि ईवीएम के विरूद्ध तय पाँच चरणों के आंदोलन में हम हर स्तर से भारत मुक्ति मोर्चा के साथ खड़े रहेंगे ।

Leave a Comment