जनपद

ईस्टर पर्व पर मसीह समाज ने निकाली झांकी, चर्च में हुई विशेष प्रार्थना

गोरखपुर.   प्रभु यीशु का पुनरूत्थान दिवस रविवार को महानगर  में ईस्टर के रूप में बड़े धूमधाम हर्षोल्लास के साथ मनाया गया. बीते रात से इस अवसर पर विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए गए और प्रात काल प्रार्थना सभा के पश्चात लोगों ने एक दूसरे को हैप्पी ईस्टर कहकर बधाइयां दी.

सिविल लाइन स्थित सेंट जोसेफ महा गिरजाघर तथा सेंट एंथोनी चर्च धर्मपुर में प्रातः काल ईस्टर की पूजा आराधना का कार्यक्रम किया गया. इस अवसर पर सेंट मार्क चर्च पादरी बाजार, सेंट एंड्र्यूज़ चर्च कौवा बाग, एच ई एम चर्च खजांची बाजार ,प्रेयेर हाल राप्तीनगर ,सेंट थॉमस चर्च धर्मपुर, सेंट मार्टिन चर्च खैरयापोखरा, मसीही कलीसिया खरैया पोखरा, पीस टरबनिकल चर्च मयूर विहार, फुल गॉस्पल चर्च मोती पोखरा में  विशेष प्रार्थना सभा का आयोजन किया गया जहाँ बड़ी संख्या में मसीही विश्वासियों की सहभागिता रही.

रविवार की शाम झांकिया निकलीं. रेव्ह रन संजय विंसेंट सहित सभी चुर्चो के पुरोहित प्रार्थना कर प्रभु यीशु मसीह के जयकारे के साथ पवित्र शास्त्र बाइबल का अंश बोलते हुए झांकियों के साथ चल रहे थे. रेव्ह डी आर लाल के नेतृत्व में माहनगर के सभी चुर्चो के पुरोहितों के सहयोग से निकली भव्य झांकी में कलाकारों ने प्रभु यीशु मसीह को अपने कंधे पर क्रूस ले जाने का दृश्य जीवंत किया. बच्चों द्वारा प्रभु यीशु मसीह को क्रूस पर टंगे होने का दृश्य प्रदर्शन किया. शील्ड कब्र पर रोमी सैनिकों के पहरे में यीशु की खुली कब्र और जीवंत निकलने की घटना की झांकियां भी शोभायात्रा में शामिल थी. जीवित होने के बाद प्रभु यीशु मसीह द्वारा थोमा और अपने चेलों  को पसली और छिदे हाथों को  दिखाए जाने की घटना का जीवंत वर्णन कलाकारों ने किया.  झांकी सेंट जॉन जूनियर हाई स्कूल के प्रांगण से शहर के प्रमुख मार्ग होते हुए क्राइस्ट चर्च शास्त्री चौक पर सम्पन हुई. इस मौके पर बतौर मुख्य अतिथि कैथोलिक धर्म प्रांत गोरखपुर के धर्माध्यक्ष विशप थुरुथिमटटम भी उपस्थित थे.

Skip to toolbar