Templates by BIGtheme NET
Home » समाचार » उप्र मदरसा शिक्षा परिषद : परीक्षा देने के बाद भी अनुपस्थित दिखा किया फेल
logo_gorakhpur-news-line-2

उप्र मदरसा शिक्षा परिषद : परीक्षा देने के बाद भी अनुपस्थित दिखा किया फेल

रिजल्ट में 30 प्रतिशत खामियां, सैकड़ों परीक्षार्थियों का भविष्य अधर में

सैयद फरहान अहमद
गोरखपुर, 22 जुलाई। उप्र मदरसा शिक्षा परिषद् की मुंशी, मौलवी, आलिम, कामिल, फाजिल सत्र 2017 की वार्षिक परीक्षा के रिजल्ट में 30 प्रतिशत खामियां सामने आयीं हैं। 18 जुलाई को घोषित रिजल्ट में पूरी परीक्षा देने वाले सैकड़ों छात्रों को अनुपस्थित दिखा दिया गया हैं। कईयों को तो पेपर में शून्य देकर अनुत्तीर्ण कर दिया गया हैं। जबसे रिजल्ट निकला हैं परीक्षार्थी मदरसों का चक्कर लगाने पर मजबूर हैं। इस समय कई विश्विद्यालयों व कालेजों में प्रवेश भी चल रहा हैं, परिषद् की इस लापरवाही से कई परीक्षार्थीयों के सामने संकट उत्पन्न हो गया हैं। पिछले बार की तरह इस बार भी परिषद् की लापरवाही से हजारों परीक्षार्थियों का भविष्य अधर में लटक गया हैं।

मदरसा दारुल उलूम हुसैनिया दीवान बाजार के सहायक अध्यापक मोहम्मद आजम ने बताया कि शनिवार को 25 परीक्षार्थी यह शिकायत लेकर आये थे कि पूरी परीक्षा देने के बाद भी सभी में अनुपस्थित दिखा दिया गया। उन्होंने बताया कि यह केवल एक मदरसे पर नहीं हो रहा हैं बल्कि सभी मदरसों का यहीं हाल हैं। करीब 30 फीसदी रिजल्ट में खामियां हैं। हर रोज दर्जनों परीक्षार्थी समस्यायें लेकर मदरसे आ रहे हैं। पूरी परीक्षा देने के बाद भी सभी पेपरों में अनुपस्थित दिखाया गया हैं। उन्होंने बताया कि परीक्षार्थियों को स्वयं रजिस्ट्रार मदरसा शिक्षा परिषद् के यहां से यह त्रुटियां दुरुस्त करवानी होंगी। परीक्षार्थी को परीक्षा केंद्र जहां पर परीक्षा दी हैं वहां से उपस्थिति पंजीका की फोटो कापी, नेट द्वारा निकले रिजल्ट की कापी, प्रवेश पत्र की फोटो कापी, एक आवेदन केंद्र व्यवस्थापक द्वारा अग्रसारित करवा कर रजिस्ट्रार के यहां भेजना पड़ेंगा। तब जा कर खामियां दूर होंगी, जिसमें काफी वक्त लगेगा।
अंजुमन इस्लामियां खूनीपुर  से फार्म भरने वाले निजामपुर निवासी शफीक अहमद ने बताया कि उन्होंने आलिम की परीक्षा दी थीं। तिब के एक पर्चें में शून्य दिखा दिया गया। जबकि यह संभव ही नहीं हैं। पूरी कापी लिखने के बावजूद शून्य दिखा दिया गया। उन्होंने बताया कि मैथ के अलावा पूरी कापी भरने के बावजूद शून्य किसी को नहीं मिलता।। लेकिन उसके बावजूद शून्य दिया गया। उन्होंने अंजुमन इस्लामियां खूनीपुर  के प्रधानाचार्य डा. रफीउल्लाह बेग से शिकायत दर्ज करायीं तो उन्होंने लखनऊ जाकर रिजल्ट  ठीक  कराने की सलाह दी।

यहीं के मोहम्मद रिफातुल्लाह के साथ यहीं मसला पेश आया। यहीं से मौलवी की परीक्षा देने वाली रायगंज की रहने वाली यासीन अनवर ने पूरी परीक्षा मदरसा दारुल उलूम हुसैनिया परीक्षा केंद्र पर दी थीं। पूरी परीक्षा देने के बावजूद सभी पेपर में अनुपस्थित दिखा दिया गया। इसी तरह मदरसा दारुल उलूम हुसैनिया से आलिम की पूरी परीक्षा देने वाली तुर्कमानपुर की नेहा परवीन को होम साइंस के पेपर में अनुपस्थित दिखा कर अनुत्तीर्ण कर दिया गया हैं। हर रोज दर्जनों परीक्षार्थी इस तरह की समस्यायें लेकर आ रहे हैं। मुंशी, मौलवी, आलिम, कामिल, फाजिल की सभी कक्षाओं में यहीं खामियां नजर आयीं हैं। जबकि मदरसों के जिम्मेदारान का कहना हैं कि मदरसे ने सभी परीक्षार्थियों की उपस्थिति पंजीका को सावधानी के साथ परिषद् को भेजा था। लेकिन खामियां किसी ने भी की हो खामियाजा परीक्षार्थियों को भुगतना पड़ रहा हैं। मदरसा अध्यापक नवेद आलम ने बताया कि अनुपस्थित दिखाकर अनुत्तीर्ण करने व कई विषयों में दिए जाने के कई मामले आ रहे हैं।

उप्र मदरसा बोर्ड द्वारा संचालित मुंशी, मौलवी, आलिम, कामिल , फाजिल सत्र 2017 की परीक्षाओं के लिए जिले में 7 परीक्षा केंद्र बनाये गये थे। परीक्षाएं 25 अप्रैल – 10 मई तक चलीं जिसमें जनपद के 4604 छात्र-छात्राएं शामिल हुए थे।

About गोरखपुर न्यूज़ लाइन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*