समाचार

नारायणी नदी से बालू खनन का विरोध कर रहे सैकड़ों ग्रामीण कांग्रेस विधायक अजय कुमार लल्लू के साथ गिरफ्तार

आंदोलन के 64वें दिन प्रशासन ने की कार्रवाई,कांग्रेसियों ने मुख्यमंत्री का पुतला फूंका

तमकुहीराज (कुशीनगर )। ए पी तटबंध के पास नारायणी नदी से बालू खनन के विरोध में 64 दिन से धरना-प्रदर्शन कर रहे सैकड़ों ग्रामीणों को क्षेत्रीय विधायक एवं कांग्रेस विधायक मंडल दल के नेता अजय कुमार लल्लू को आज पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तारी के बाद विधायक और ग्रामीणों को पटहेरवा थाने ले जाया गया है।

IMG-20180406-WA0009

कांग्रेस विधायक की गिरफ्तारी की जानकारी मिलने के बाद सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण थाने पर पहुंचने लगे हैं। थाने पर ग्रामीणों की भीड़ से अधिकारियों के माथे पर बल पड़ गए हैं।

ग्रामीणों और विधायक की गिरफ्तारी से नाराज कांग्रेसियों ने मुख्यमंत्री का पुतला फूंका।

IMG-20180406-WA0007

आज अपरान्ह चार बजे अफसर बड़ी संख्या में पुलिस बल के साथ धरना स्थल विरवट कोन्हवालिया पहुंचे और आंदोलनकारियों की गिरफ्तारी शुरू कर दी। ग्रामीणों और विधायक ने शांतिपूर्ण प्रतिरोध किया। विधायक अजय कुमार लल्लू सहित सैकड़ों ग्रामीणों को पुलिस वाहन में बिठाकर पटहेरवा थाना ले जाया गया।

IMG-20180406-WA0015

ग्रामीण नारायणी नदी से बालू खनन का विरोध कर रहे हैं। ग्रामीणों का कहना है कि नदी का रुख लगातार एपी तटबंध की तरफ हो रहा है और हर वर्ष इस कारण तटबंध और तटबंध के अंदर स्थित गांव कटान के शिकार हो रहे हैं। ऐसे में तटबंध के पास बालू खनन की अनुमति देकर सरकार और प्रशासन ने दर्जनों गांवों की एक लाख से अधिक जनता की जान को खतरे में डाल दिया है।

IMG-20180406-WA0010

जिला प्रशासन ने बालू खनन के तीन पट्टे दिए हैं। ग्रामीण पट्टा का आवंटन निरस्त करने की मांग कर रहे हैं। तटबंध की देख रेख करने वाले बाढ़ खंड के अभियंताओं ने भी बालू खनन को तटबंध के लिए खतरा बताया था। इसके बावजूद सरकार-प्रशासन बालू खनन रोकने के बावजूद आंदोलनकारियों का ही दमन करने पर उतारू हो गई है।

 

Add Comment

Click here to post a comment