समाचार

कठकुइंया चीनी मिल चलवाने को लेकर हुई महापंचायत, संघर्ष का ऐलान

  • 4
    Shares

आलमगीर

पडरौना (कुशीनगर), 24 अक्टूबर। बन्द पडी कठकुइंया चीनी मिल चलवाने को लेकर किसान मजदूर चीन मिल चलाओ सघर्ष समिति के तत्वावधान में आज हुई महापंचायत में जिला पंचायत सदस्य मनोज सिहं के नेतृत्व में किसानों, मजदूरों, व्यापारियों ने चरणबद्ध आंदोलन करने का निर्णय लिया।
इस महा पंचायत में सभी जाति, धर्म, दल के लोगों ने हिस्सा लिया। पंचायत के समर्थन में व्यापारियों ने तीन घंटे के लिए दुकानें भी बंद रखीं। महापंचायत में सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि यह आन्दोलन हर गांव के लोगों  की भागीदारी के साथ चरणबद्ध तरीके से आगे बढेगा। पहले अपनी समस्याओं को सक्षम अधिकारी के सामने रखा जाएगा। इसके बाद धरना-प्रदर्शन होगा। तीसरे चरण में सडक व रेल मार्ग जाम किया जाएगा। महापंचायत को सम्बोधित करते हुए मनोज सिंह ने कहा कि यहाॅ चीनी मिले जनपद के किसानों की आर्थिक रीढ हड्डी कही जाती थीं। दो दशक पहले एक-एक कर छितौनी, लक्ष्मीगंज, रामकोला पंजाब, कठकुइंया की चीनी मिलों कोे बन्द कर दिया गया। इससे किसानों के साथ-साथ पूरी अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचा है। दो दशक पूर्व के जन प्रतिनिधियों सासंद , विधायकों ने किसानों को जागरुक कर लडाई नही लडी जिसका नतीजा आज किसान भुगत रहा है।
महापंचायत को डा0 लालजी सिंह, आशुतोष सिंह बहुगुणा, राधा कृष्ण तिवारी, ओंकार श्याम सिंह, देवदत्त सिंह, डा0 सजंय मिश्र आदि ने सम्बोधित किया।
इस अवसर पर सुशील श्रीवास्तव, राजकुमार पाण्डेय, सर्वेश मिश्र, भेषा प्रसाद, रामचन्द्र प्रसाद, प्रमोद तिवारी, सन्तोष पाण्डेय, मुन्ना सिंह, छोटे मिश्र, अजय सिंह, राणा प्रताप सिंह, पारस नाथ मिश्र, गोरख गोड, राहुल मिश्र, मृत्युजंय सिंह, सीपीएन सिंह, विनोद उपाध्याय, राजेश सिंह, जयराम मिश्र, मिथलेश मिश्र, योगेन्द्र तिवारी, शंकर पहलवान, राधेश्याम शर्मा, सोनू सिंह, सूरज यादव, रणजीत सिंह, संजय जायसवाल, शैलेन्द्र यादव आदि उपस्थित थे।