समाचार

किन्नर गुरुओं ने 3 किन्नरों को अपने समाज से किया बहिष्कृत

  • 12
    Shares

गोरखपुर, 23 अक्टूबर। किन्नर गुरु व पूर्व मेयर आशा देवी की उत्तराधिकारी बरखा किन्नर ने रविवार को गोरखपुर जनर्लिस्ट प्रेस क्लब में प्रेस वार्ता कर तीन किन्नर को अपने समाज से बेदखल करने की जानकारी दी। इस दौरान प्रेमा और किन्नर शोभा भी मौजूद रहीं।
किन्नर गुरु बरखा ने बताया कि नैना मुस्कान और कंचन को समाज में गलत हरकतों की वजह से बहिष्कृत किया गया है। इनके द्वारा यदि बधाई गाकर अवैध वसूली किया जाता है तो वह अवैध होगा। बरखा ने बताया कि आज वह अपनी टीम के साथ नगर से बधाई का कर निकल रही थीं। इसी बीच तीनों किन्नर कुछ असमाजिक तत्वों के साथ इनसे मिल गए। इन लोगों ने मारपीट की। इस दौरान उन्होंने गले की चेन, कान की बाली तथा हाथ में लिया हुआ पर्स छीन लिया।

1fcf3c58-f120-4882-b1d0-e46a88e6ca63

किन्नर शोभा ने बताया कि किन्नर समाज के अपने नियम हैं। जो इसे तोड़ता है वह दंड का भागीदार होता है। उन्होंने हाल में हुई घटनाओं का हवाला देते हुए कहा कि किन्नर नैना की हरकतें भी कुछ इसी तरह की हो गई हैं। नैना को जब सुधारने की कोशिश की जाती है, तो वह पूरी तरह से उग्र होकर मारपीट पर उतारू हो जाती है। इसी कारण किन्नर समाज के लोगों ने तीनों किन्नरों को अपने समाज से बहिष्कृत कर दिया है किन्नर प्रेमा ने कहा कि उनके समाज में किसी प्रकार की अनहोनी या घटना ना हो इस कारण तीनों किन्नर को समाज से बेदखल किया गया है। उन्होंने बताया कि उन्हें हाल ही में पता चला है कि वह कुछ अपराधिक प्रवृत्ति के लोगों के साथ मिलकर षड्यंत्र रच रही हैं। आज की घटना उसका प्रमाण है। उन्होंने अपने पर 5 दिन पूर्व गोरखनाथ थाना के इंडस्ट्रियल स्टेट में करीब 5 हुई घटना का हवाला देते हुए कहा की यदि मौके पर पुलिस नहीं पहुंची तो कुछ भी हो सकता था। इस मामले में बरखा किन्नर ने महानगर के लोगों से सहयोग की अपील करते हुए पाखंडी किन्नरों से सावधान रहने की अपील की है।⁠⁠⁠⁠