समाचार

गीत में सिद्धार्थ, पोस्टर में अनुष्का और स्लोगन प्रतियोगिता में सुनील प्रथम रहे

विश्व पर्यावरण दिवस की पूर्व सन्ध्या पर ‘ रामगढ़ ताल एवं इसका पारिस्थितिक तंत्र ‘  विषय पर पोस्टर, स्लोगन एवं गीत प्रतियोगिता का आयोजन 

गोरखपुर , 4 जून। गोरखपुर एनवायरन्मेन्टल एक्शन ग्रुप, राष्ट्रीय सेवा योजना, इंटेक गोरखपुर चैप्टर और महानगर पर्यावरण मंच के संयुक्त तत्वावधान में दो  विश्व पर्यावरण दिवस की पूर्व सन्ध्या पर आज शाम 5 बजे ‘ रामगढ़ ताल एवं इसका पारिस्थितिक तंत्र ‘  विषय पर लेक व्यू प्वांइट, रामगढ़ ताल पर पोस्टर, स्लोगन एवं गीत प्रतियोगिता का आयोजन किया गया।

गीत प्रतियोगिता में सिद्धार्थ गौतम प्रथम , भीम सेन सिंह द्वितीय और अतुल मिश्रा तीसरे स्थान पर रहे। पोस्टर प्रतियोगिता में प्रथम अनुष्का मणि त्रिपाठी, द्वितीय विष्णु देव शर्मा एवं तृतीय अजंली उपाध्याय रहे। स्लोगन प्रतियोगिता में प्रथम सुनील कुमार, द्वितीय आकृति मेहरोत्रा एवं साक्षी त्रिपाठी रहे।

इस मौके पर मुख्य अतिथि राज्य सभा सदस्य शिव प्रताप शुक्ला ने कहा कि रामगढ़ ताल प्राकृतिक धरोहर है। इसे बचाना हम सब का परम कर्तव्य है। हम सब को एक जुट हो कर इसके जल को निर्मल एवं प्रदूषण मुक्त बनाने के लिए हर सम्भव प्रयास करना चाहिए जिससे पूर्वाचल कि इस डल झील को आने वाली पीढ़ी को उपहार के रूप में दिया जा सकें।

IMG_0067

मुख्य अतिथि का स्वागत राष्ट्रीय सेवा योजना के समन्वयक प्रो0 अजय कुमार शुक्ला एवं डा0 शीराज वजीह द्वारा पौधा द कर किया गया। प्रो0 अजय शुक्ला ने कार्यक्रम की रूपरेखा बताते हुए कहा कि प्रतियोगिता कराने का मुख्य उददेश्य युवाओं को प्रोत्साहित करना है। जिससे वे इस अभियान में अपनी सक्रिय भागीदारी कर एक सार्थक पहल करें।
डा0 शीराज वजीह ने रामगढ ताल के इतिहास पर प्रकाश डाला। उन्होंने यह भी कहा कि रामगढ़ ताल को स्वच्छ एवं निर्मल बनाने में जन मानस का सहयोग बहुत जरूरी है। पहले और अब के राम गढ़ताल में काफी अन्तर देखने को मिलता है लेकिन अब इसको और बेहतर बनाने का लक्ष्य निधार्रित करना है।
ई0 एम0पी0कंडोई ने कहा कि इस तरह के अभियान चलने से निश्चित तौर पर रामगढ ताल को दर्शनीय स्थल बनाया जा सकता है।
कार्यक्रम में उपस्थित रामगढ़ ताल परियोजना के परियोजना अधिकारी ई0 रतन सेन सिंह ने इस परियोजना के बारें में विस्तृत जानकारी दी एवं प्रतिभागियों के जोश को सराहा। उन्होंने उपस्थित लोगों से रामगढ़ ताल में कूड़ा कचरा एवं पालीथिन न डालने की अपील की।
जितेन्द्र द्विवेदी ने इस अभियान में ज्यादा से ज्यादा लोगों को जोड़ने की अपील की जिससे कि रामगढ़ ताल को स्वस्थ, सुन्दर तथा पर्यावरण की दृष्टि से और बेहतर बनाने में नागरिक अपनी सक्रिय भागीदारी सुनिश्चित हो सकें।
प्रतियोगिता के निर्णायक मण्डल में डा0 भारत भूषण एवं डा0 शिवांशी भूषण, आशा कंडोई, कुमकम लाहिड़ी  थे।
कार्यक्रम का संचालन डा0 मुमताज खान ने किया एवं धन्यवाद ज्ञापन पी0के0लाहिड़ी ने किया।
कार्यक्रम में मुख्य रूप से डा0 सर्वेश शुक्ला, डा0 सुमन सिन्हा, डा0 शोभित श्रीवास्तव, डा0 कुशहर साहनी, जितेन्द्र श्रीवास्तव, दीप्ती अनुराग, डा0 प्रमोद त्रिपाठी, के0के0सिंह, शिव प्रसाद, शशी कान्त, सुरभी, मनीता, तान्या, कीर्ती, अंकिता, समृद्धि, रवी आदि प्रमुख लोग उपस्थित थे।
कल 5 जून विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर ”रन फाॅर रामगढ़ ताल” रैली गौतम बुद्ध द्वार पैड़लेगंज से चल कर लेक व्यू प्वांइट पर खत्म होगी। वहाॅ पर परिचर्चा एवं शपथ दिलायी जायेगी। रैली सुबह 8 बजे निकलेगी।

Add Comment

Click here to post a comment