जनपद

चन्द्रशेखर हत्या कांड : नौ दिन बीतने के बाद भी कोई सुराग नही,खुलासे में देरी पर सवाल

24 घण्टे में खुलासा न होने पर वर्दी उतारने के वादे से मुकरे एसओ

सिसवा बाजार (महराजगंज), 1सितंबर। चन्द्रशेखर हत्या काण्ड का नौ दिन बाद भी खुलासा नहीं होने से लोगों में नाराजगी बढती जा रही है. घटना का 24 घंटे में पर्दाफाश नहीं होने पर वर्दी  उतार देने का वादा करने वाले एसओ अब इस बारे में किये जा रहे सवाल का जवाब नहीं दे रहे हैं.
24 अगस्त की रात में बाइक सवार तीन बदमाशों ने सिसवा कस्बे के प्रेमचित्र मंदिर के सामने चन्द्रशेखर की हत्या की थी।परन्तु नौ दिन बीतने के बाद पुलिस की कार्यवाही समझ के परे है।कस्बे से अब तक आधा दर्जन लोगों को उठा कर पुलिस पूछ ताछ कर चुकी है लेकिन कोठीभार पुलिस को अभी तक कोई उपलब्धि मिलती नज़र नही आ रही है।इस हत्या कांड के खुलासे पर सभी की निगाहें लगी हुई है।अब जैसे दिन बीतता जा रहा है वैसे ही व्यापारी वर्ग में आक्रोश भी बढ़ता जा रहा।जिसकी बानगी गुरुवार को देखने को मिली जिसमे व्यापारी व नगर के युवाओं को दुकानें बंद कर धरना प्रदर्शन के लिए बाध्य होना पड़ा।

धरना खत्म करने के लिए पहुंचे एसओ जितेंद्र सिंह ने 24 घण्टे में मामले का खुलासा करने का दावा करते हुए कहा था,अगर नही कर पाए तो अपनी वर्दी उतार कर चला जाऊंगा।अब व्यापारियों का कहना है कि दावे का समयसीमा तो खत्म हो चुकी है।अब लोगो को लगने लगा है कि  तीन महीना पहले हुए अमित हत्या कांड की तरह इस मामले को भी इसी तरह लंबा खींचते हुए ठंडे बस्ते में डाल दिया जायेगा और पीड़ित को न्याय नही मिल सकेगा।
इस संदर्भ में थानाध्यक्ष जितेंद्र सिंह का कहना है कि अभी इस  मामले कुछ काम बाकी है। इधर त्यौहार भी है इस लिए देरी हो रही  है।अब खुलासा त्यौहार बाद ही संभव हो पायेगा। वर्दी उतारने के सवाल को वह टाल गये।