राज्य

जनता के बीच सरल और तरल रहें जन प्रतिनिधि-विधान सभा अध्यक्ष

गोरखपुर, 16 अप्रैल। विधान सभा अध्यक्ष ह्रदय नारायण दीक्षित ने कहा है कि जनप्रतिनिधियों को आमजन के बीच सरल एव तरल बने रहना चाहिए ।

श्री दीक्षित शनिवार को नाहरपुर स्थित  में ज्योति इंटर कालेज में बतौर मुख्य अतिथि विधायकों के सम्मान समारोह को संम्बोधित कर रहे थे ।
उन्होंने कहा कि भारत में विभिन्न संस्कृतियों का समावेश है । प्रदेश के नाम का जिक्र करते हुए श्री दीक्षित ने कहा कि दुनिया के किसी सभ्यता में पंछियों के बातचीत का वृतांत पढ़ने को नहीं मिलता है । जबकि भारत के पुराणों में कागभुसन्डी एवं गरुण द्वारा शास्त्रार्थ का जिक्र होता है। उन्होंने कहा कि सभी प्रश्नों का जहां उत्तर मिलता है उसे उत्तर प्रदेश कहते हैं । उन्होंने कार्यक्रम में उपस्थित विधायकों को मंन्त्र देते हुए कहा कि श्रम तप के बल पर साधारण से असाधारण बनना तो आसान है मगर असाधारण बनने के बाद साधारण व्यक्ति जैसा आचरण बनाए रखना ही कठिन है । पार्टी विधायकों को अनुशासन का पाठ पढ़ाते हुए कहा कि 4 बार विधानसभा व एक बार विधानपरिषद सदस्य रहने के दौरान वे कभी भी अनुपस्थित अथवा विलंब नहीं हुए ।

मुख्य अतिथि को अंगवस्त्र एवं राधा कृष्ण का चित्र देकर सम्मानित किया गया । कार्यक्रम का संचालन पूर्व राज्यमंत्री संतराज यादव ने किया । इस दौरान प्रधानाध्यापक चन्द्रभूषण मिश्र ने अभिनंदन पत्र पढ़कर सुनाया । सभी विधायकों को विधानसभा अध्यक्ष द्वारा अंगवस्त्र व अभिनंदन पत्र देकर सम्मानित किया ।
इस अवसर पर क्षेत्रीय अध्यक्ष उपेन्द्र दत्त शुक्ल , जिलाध्यक जनार्दन तिवारी , एम एल सी देवेन्द्र प्रताप सिंह , विधायक ज्ञानेन्द्र सिंह , जयमंगल कन्नौजिया , संगीता यादव , गंगा सिंह कुशवाहा , महेन्द्र पाल सिंह , डाक्टर विमलेश पासवान , रामानन्द बौद्ध , बजरंग बहादुर , रजनीकांत मणि , जटाशंकर त्रिपाठी , सतीश चंन्द्र द्विवेदी , भाजपा नेता राधेश्याम सिंह ,डॉ सत्येंद्र सिन्हा प्रधानाध्यापक रवि प्रकाश यादव , अजय प्रकाश यादव , जिला पंचायत सदस्य रामभोग सिंह , धर्मेन्द्र कुमार मिश्र , नरेन्द्र सिंह , जिला पंचायत सदस्य रामभोग सिंह , नरेन्द्र शुक्ल आदि लोग मौजूद रहे ।