जनपद

जिला अस्पताल में डेंगू के इलाज के लिए अलग वार्ड बना

कुशीनगर 4 अक्टूबर। डेंगू के इलाज के लिए संयुक्त जिला चिकित्सालय ने अलग वार्ड, काउन्टर, स्टाफ व दवाओं की व्यवस्था करते हुए फिजिशियन राजेश कुमार को तैनात किया है।
जिले में अब तक इस बीमारी के नौ मरीज मिले है जिसमें सबसे ज्यादे सात मरीज रामकोला के गांव कुसम्हा के है।
कुसम्हा के टोला सुकवासी निवासी मुसाफिर, कन्हैया, सुरेन्द्र, रगडगंज के रामा जायसवाल, गुड्डू प्रसाद, दिनेश, परहुआ छापर निवासी रामेश्वर, पडरौना क्षेत्र के नादह निवासी ओमप्रकाश गौड,नीतिश गौड, रामकोला कस्बे के राजा जायसवाल खून जाॅच के बाद पता चला है कि वे डेंगू के चपेट में है।
उधर भाजपा नेता मारकंडेय शाही ने जिला अस्पताल में डेंगू इलाज की व्यवस्था पर कई सवाल उठाए हैं। श्री शाही नेेुतृत्व में भाजपा के एक प्रतिनिधिमंडल ने जिला अस्पताल का निरीक्षण करने के बाद जिलाधिकारी को ज्ञापन दिया।
ज्ञापन में आरोप लगाया था कि जिला अस्पताल में भर्ती के बाद जांच व दवा के नाम पर धन की वसूली की जाती है। शौचालय की व्यवस्था नही है। वार्ड में काफी गंदगी है। डेंगू इलाज की जिम्मेदारी प्राइवेट प्रैक्टिस करने वाले के डाक्टर के हाथ में दे दी गयी है।
प्रतिनिधि मण्डल में अवधेश प्रताप सिंह, अखिलेश दास गुप्ता, धनजंय तिवारी, महेन्द्र गौड, फूलबदन कुशवाहा, संजीव दीक्षित, कन्हैया कुशवाहा, सुमंत पाण्डेय, ओमप्रकाश गुप्ता,दयाशंकर सिंह आदि लोग शामिल थे।

Add Comment

Click here to post a comment