Templates by BIGtheme NET
Home » समाचार » डॉ सुरहिता और गिरीश पाण्डेय सबसे अमीर, भाजपा प्रत्याशी पर दर्ज हैं तीन केस
logo_gorakhpur-news-line-2

डॉ सुरहिता और गिरीश पाण्डेय सबसे अमीर, भाजपा प्रत्याशी पर दर्ज हैं तीन केस

– गोरखपुर लोकसभा उपचुनाव के दस उम्मीदवारों की संपत्ति, शिक्षा, आपराधिक केस का व्योरा

गोरखपुर, 24 फरवरी। गोरखपुर लोकसभा सीट सीट पर हो रहे उपचुनाव में  उम्मीदवारों के शपथपत्र के मुताबिक कांग्रेस उम्मीदवार डॉ. सुरहिता करीम और सर्वोदय भारत पार्टी के गिरीश नारायण  पांडेय सबसे अमीर हैं। यहाँ से चुनाव लड़ रहे अधिकतर उम्मीदवार उच्च शिक्षा हासिल किए हुए है। भाजपा प्रत्याशी पर तीन आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं.

सपा प्रत्याशी 29 वर्षीय प्रवीण कुमार निषाद के पास महज 45 हजार तो उनकी पत्नी रीतिका साहनी के पास भी बस 32 हजार नकद है। प्रवीण के पास 1.23 लाख और रीतिका के पास 10.02 लाख रुपये की चल सम्पत्ति है। प्रवीन के पास न आवास है न गाड़ी। पैतृक संम्पत्ति भी नहीं है। उनकी पत्नी के नाम 99 हजार रुपये का इलाहाबाद बैंक का कर्ज भी है। पत्नी सरकारी कर्मचारी हैं जबकि प्रवीण किसान हैं। उन्होंने मैकेनिकल इंजीनियरिंग में प्रौद्योगिकी स्नातक की उपाधि हासिल की है।

सर्वोदय भारत पार्टी के उम्मीदवार पूर्व आईआरएस अधिकारी 63 वर्षीय गिरीश नारायण पांडेय करोड़पति हैं। लखनऊ में अलीगंज निवासी जीएन पांडेय के पास 3.20 करोड़ और पत्नी के नाम 1.81 करोड़ रुपये की चल सम्पत्ति है। 16 लाख की इनोवा से चलते हैं। उनके पुत्र के पास 17.2 लाख रुपये की सम्पत्ति है। गिरीश के पास 5.65 करोड़ रुपये की अचल संपंत्ति है। इनमें 13 एकड़ जमीन बस्ती जिले में है। प्रिंसिपल चीफ कमिश्नर इनकम टैक्स के पद से रिटायर जीएन पांडेय इलाहाबाद विश्वविद्यालय से एमए हैं। उन्होंने पटना से एमबीए और कानपुर विश्वविद्यालय से एलएलबी की उपाधि हासिल की।

भाजपा प्रत्याशी 56 वर्षीय प्रत्याशी उपेंद्र शुक्ल बीए प्रथम वर्ष उत्तीर्ण हैं। उनके पास कार तक नहीं है। उनसे ज्यादा चल सम्पत्ति उनकी पत्नी के पास है। उपेंद्र के हाथ में 50 हजार तो उनकी पत्नी के पास एक लाख रुपये नकद है। बैंक में उनके पास 68 हजार 422 रुपये और उनकी पत्नी के एकाउंट एवं एफडी मिला कर 9.39 लाख रुपये की चल सम्पत्ति है। उपेंद्र के नाम अलहदादपुर में आवासीय मकान है जिसका बाजार मूल्य तकरीबन 27 लाख रुपये है। पेशे से किसान उपेंद्र के पास 1.390 हेक्टेयर कृषि योग्य जमीन है जिसका मूल्य 62.53 लाख रुपये है। उन पर तीन मुकदमे विचाराधीन हैं।

कांग्रेस प्रत्याशी 57 वर्षीय डा. सुरहिता करीम और उनके पति डा. विजाहत करीम करोड़ों की सम्पत्ति के मालिक हैं। डा. सुरहिता के पास दो लाख तो डा. करीम के पास 4 लाख रुपये नगद हैं। डा. सुरहिता के पास 28 लाख की एलआईसी है। बीआरडी मेडिकल कालेज से मास्टर आफ सर्जरी की डिग्री लेने वाली सुरहिता करीम 6 लाख की होंडा कार से चलती हैं। डा. विजाहत के पास 73 लाख की बीमा पालिसी के साथ ही एक रिवाल्वर भी है। डा. सुरहिता 91.44 लाख चल और 68.34 लाख अचल सम्पत्ति की मालिक हैं तो उनके पति 1.2 करोड़ चल और 44.24 लाख की अचल सम्पत्ति है। डा. सुरहीता पर 35.50 लाख और डा. विजाहत पर 3.21 करोड़ का लोन है। डा. सुरहिता पर कोई केस नहीं है।

निर्दल प्रत्याशी50 वर्षीय मालती देवी पांचवीं पास है। निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा. संजय कुमार निषाद की पत्नी हैं। इन्हीं के पुत्र प्रवीन कुमार निषाद सपा प्रत्याशी हैं. इनके पास कोई गाड़ी नहीं। पति के पास वैगन आर कार है । इनके पास  33.79 लाख और उनके पति डा. संजय निषाद के 15.51 लाख की चल सम्पत्ति है. पास। पति के पास 42 लाख रुपये की अचल सम्पत्ति है.

निर्दल प्रत्याशी 27 वर्षीय इंजीनियर श्रवण कुमार सिविल इंजीनियर हैं. वह अविवाहित हैं। श्रवण सपा प्रत्याशी डा. प्रवीण निषाद के भाई और निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा. संजय कुमार निषाद के पुत्र हैं। उनके पास 81 हजार रुपये की चल सम्पत्ति। इसके अलावा उनके पास और कुछ नहीं है.  न कोई कर्ज है न कोई मुकदमा

बहुजन मुक्ति मोर्चा के प्रत्याशी 34वर्षीय अवधेश कुमार निषाद-बेरोजगार हैं. एमए तक शिक्षा प्राप्त अवधेश के पास हीरोह‌ोंडा बाइक है.  उनके पास 57 हजार और पत्नी के पास 24 हजार रुपए नगद है। 25 सौ वर्गफीट में जंगल धूसड़ में मकान है।  चिलुआताल थाने में घर में घुस कर मारपीट एवं धमकी देने का उन पर एक मुकदमा दर्ज है।

निर्दल 44 वर्षीय विजय कुमार राय दर्शनशास्त्र से एमए हैं। उनके पास 14 लाख की सफारी गाड़ी है । उनके पास 16 लाख और पत्नी के पास 2.75 लाख चल सम्पत्ति हैं। श्री राय के पास 36 लाख अचल सम्पत्ति है. पत्नी के पास  45 लाख रुपये का प्लाट है.

निर्दलीय 39 वर्षीय नरेन्द्र कुमार महंता एलएलबी और पीजीडीडीएमएसएम है। पेशे से अधिवक्ता हैं। एक दो पहिया गाड़ी है। उनके पास 3.67 लाख और पत्नी के पास 4.22 लाख की चल सम्पत्ति है। न खेती न मकान। न अचल सम्पत्ति. न कोई कर्ज न कोई मुकदमा.

निर्दलीय 44 वर्षीय राधेश्याम सेहरा की शिक्षा-12वीं तक है. वह मजदूर हैं. उनके पास कोई वहां नहीं हैं.  दस लाख का मकान है. सेहरा के पास  5.30 लाख और पत्नी के पास 70 हजार की चल सम्पत्ति है। उनके ऊपर न कर्ज है न मुकदमा।

 

About गोरखपुर न्यूज़ लाइन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*