समाचार

ड्राइवर का हाथ-पैर बांध कर फेंका और बोलोरो गाड़ी ले भागे बदमाश

ड्राइवर अजय सिंह

गोरखपुर क्राइम ब्रांच में तैनात अधिकारी की थी बोलेरो

सिसवा बाजार।(महराजगंज), 14 जून। कोठीभार थानाक्षेत्र के गुरली रामगढ़वा-खड्डा मार्ग पर ग्राम सभा अहिरौली स्थित रेलवे समपार फाटक के पास मंगलवार की अर्द्धरात्रि में गोरखपुर से बोलेरो बुक कराकर खड्डा जा रहे बोलेरो सवार 5 बदमाशो ने ड्राइवर को मार पीट गमछे से हाथ पैर बांध कर खेत में डाल दिया और बोलेरो लेकर चंपत हो गए।
लूट के शिकार बढ़नी गोपालपुर थाना बांसगांव निवासी अजय सिंह ने बताया कि मंगलवार को दिन में 3 बजे गोरखपुर रेलवे स्टेशन के सामने टैक्सी स्टैंड के पास 30 से लेकर 50 वर्ष उम्र के 5 लोग आए। इन लोगों ने गोरखनाथ हॉस्पिटल से मरीज को लेकर कुशीनगर जनपद के खड्डा कस्बे को जाने के लिए उसकी सफ़ेद रंग की बोलेरो यूपी 53 VJ 6755 वाहन को आठ हजार रुपये में बुक किया और रात 9 बजे हॉस्पिटल पर आने की बात कह अजय को एडवांस देकर और मोबाइल नम्बर ले कर चले गये। नौ बजे जब अजय गाड़ी लेकर हॉस्पिटल पर पहुंचा तो बदमाशो ने कहा कि मरीज मर गया है।अब उसे एम्बुलेंस से भेजा जायेगा घर वाले अभी हॉस्पिटल में रहेंगे।तब तक हम रिश्तेदार के घर खड्डा पहुँच कर अंतिम संस्कार की तैयारी करेंगे। ये सभी लोग बोलेरो पर सवार होकर खड्डा के लिए चल पड़े। इन लोगों ने गोरखपुर स्टेशन के सामने खाने के लिट्टी चोखा खरीदा और खड्डा के लिए निकले। रस्ते मे पेट्रोल पंप पर अपने पास से एक हज़ार रुपये का डीजल भरवाया। अर्द्धरात्रि को लगभग 12:10 बजे वे खड्डा थाना सीमा से लगभग 2 किलोमीटर पहले गुरली रामगढ़वा अहिरौली समपार फाटक के पास सुनसान इलाके में पहुँच कर लघुशंका के लिए गाड़ी रुकवाई। पहले 2 लोग उतरे। इन लोगों ने  ड्राइवर को गाडी से खींच लिया उसके बाद तीन लोग गाडी से उतर कर ड्राइवर को मारने पीटने लगे और दो गमछे से हाथ पैर बांध कर खेत में डाल दिया। इसके बाद बदमाश बोलेरो लेकर खड्डा की ओर फरार हो गए। घटना के 15 मिनट बाद ड्रावर को खड्डा की ओर जाते हुए एक साइकिल सवार दिखा जिसको अजय ने आवाज दी। साइकिल सवार ने उसके  हाथ-पैर खोले। वहां से ड्राइवर किसी तरह पास के गांव में एक घर पहुंचा और मदद की गुहार लगाई  उन लोगो से मोबाइल से 100 नम्बर पर पुलिस और फिर गाड़ी मालिक जो पुलिस विभाग में गोरखपुर में कार्यरत हैं, बस्ती निवासी अखिलेश सिंह को जानकारी दी। घटना की सूचना पर पहुंची मुकामी पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ लूट और धारा 420 के तहत मुकदमा पंजीकृत कर ड्राइवर को अपने साथ लेकर लूटी गई बोलेरो की तलाश में निकल गई।
चार बार 100 नम्बर को कॉल के बाद भी नही पहुंची

बोलोरो लूटकांड की घटना के बाद खेत में पड़े ड्राइवर को साईकिल सवार ने हाथ पैर खोल दिया तो वो पास के गांव में पहुँच एक आदमी से मोबाईल मांग कर पहले 100 नम्बर पर पुलिस को सुचना दी,उसके बाद अपने गाड़ी मालिक को सुचना दी।परन्तु चार बार 100 नम्बर को फोन करने बाद भी पुलिस घटना स्थल पर नही पहुंची। बाद में लगभग 2 बजे के करीब गाडी मालिक द्वारा अपने स्रोतों से फोन करने पर कोठीभार एसओ मय फोर्स घटना स्थल पर पहुंचे।
रात में ही पुलिस कप्तान ने किया मौके का निरीक्षण

बोलेरो जीप लुटे जाने की घटना की सुचना मिलते ही पुलिस सक्रिय हो गई। पुलिस विभाग के क्राइम ब्रांच में तैनात अधिकारी की गाड़ी लूट होने के कारण जनपद महराजगंज के विभागीय सारे आला अफसर घटना स्थल पर पहुँच गये। पुलिस कप्तान राकेश सिंह, क्राइम ब्रांच प्रभारी राजेश वर्मा, सीओ सदर मुकेश प्रताप सिंह, सीओ निचलौल सुरेंद्र नाथ तिवारी, ठूठीबारी इंस्पेक्टर वीरेंद्र विक्रम सिंह, चौक एसओ ज्ञानेंद्र राय, घुघली एसओ रमाकर यादव, तथा कोठीभार एस ओ आनंद गुप्ता रात में ही घटना स्थल का निरीक्षण कर जांच आरम्भ कर दिया।
यात्रा के दौरान बदमाशो ने आपस में कोई वार्ता नही की

बोलोरो लूटकांड के शिकार अजय सिंह ने बताया कि रात 9 बजे गोरखनाथ मंदिर अस्पताल से जब पांचों बदमाशो को लेकर चला तो सबके सब रास्ते में मौन धारण किये रहे। आपस में पान मसाला के लेन-देन के इलावा इनके बीच कोई बात चीत नही हुई।  घटना स्थल के पास पहुँच कर लघुशंका के लिए गाड़ी रुकवाया और घटना का अंजाम दे दिया।

Leave a Comment