समाचार

तिवारीपुर सांप्रदायिक विवाद में 200 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज

गोरखपुर , 23 जून। तिवारीपुर इलाके में मदरसा परिसर में लाउडस्पीकर बजाने को लेकर मंगलवार को दो पक्षों में हुए विवाद और पथराव के मामले में पुलिस ने दो सौ से अधिक उपद्रवियों के खिलाफ माहौल बिगाड़ने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया है।

थानेदार राजनाथ सिंह की तहरीर पर यह कार्रवाई हुई है। पुलिस की कई टीमों ने रात में छापेमारी कर कुछ लोगों को हिरासत में भी लिया है। जिला प्रशासन ने पूरे शहर में धारा 144 लगा दी है। तिवारीपुर थाना क्षेत्र को चार सेक्टर में बांट कर एक-एक एडीएम और सीओ के नेतृत्व में पुलिस कर्मियों के साथ पीएसी भी तैनात की गई है।
मंगलवार की शाम को बंद कराई गई दुकानें सुबह खुली नजर आई। बड़ी दुकानों पर अभी भी ताला लटका हुआ है।
हिंदू युवा वाहिनी के प्रदेश अध्यक्ष सुनील सिंह ने लाउडस्पीकर को सुबह 10 बजे तक उतारने का अल्टीमेटम दिया था। इसके बाद प्रशासन ने इसे उतरवाकर स्थानीय पार्षद नजमा बेगम के घर पर 15 दिनों के लिए लगाया है। रमजान के महीने में शहरी और अफ्तार के लिए यहां से सूचना दी जाएगी बाद में यह लाउडस्पीकर वहां से भी हटा लिया जाएगा।
डीएम ओएन सिंह ने बताया कि अराजक तत्वों ने पथराव कर स्थिति बिगाड़ने की कोशिश की। इस पर नियंत्रण पा लिया गया है। उपद्रवियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उनकी तलाश की जा रही है। देर रात दोनों समुदायों की सहमति से विवाद की वजह बना लाउडस्पीकर मस्जिद से हटाकर दूसरे मकान पर लगा दिया गया।
मंडलायुक्त ने ली जानकारी
मंडलायुक्त पीगुरु प्रसाद और डीआइजी शिव सागर सिंह ने तिवारीपुर थाने पहुंचकर घटना की जानकारी ली। मातहतों को माहौल खराब करने वालों से सख्ती से निपटने का निर्देश दिया। पथराव में घासीकटरा, तिवारीपुर निवासी महेंद्र घायल हुए हैं। उन्हें मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया है।
साल 2004 का है मामला
निजामपुर में 2004 में मदरसा नुरूल इस्लाम की स्थापना हुई थी। बाद में मदरसे को ही मस्जिद का रूप दे दिया गया। इस साल रमजान के पहले दिन से वहां लाउडस्पीकर से अजान दी जाने लगी। निजामपुर के ही विनोद उर्फ बाले, गणेश कुशवाहा, प्रभु कुशवाहा, अजय जायसवाल ने एतराज जताते हुए तिवारीपुर थाने में एप्लिकेशन दिया। इसके बाद पुलिस मामले के निस्तारण का प्रयास कर रही थी। मंगलवार को भी दोनों पक्षों को थाने बुलाया गया, लेकिन कोई समाधान नहीं निकला।इसके बाद वह माहौल बिगड़ गया था।

Leave a Comment

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz