जनपद

दबाव काम नहीं आया, 32 दागी समितियों को नहीं बनया गया क्रय केन्द्र

जे बी सिंह
  • 60
    Shares

महराजगंज,  25 अक्तूबर । तमाम दबावों के बावजूद 32 दागी समितियों को इस बार क्रय केंद्र नहीं बनाया गया है.

पीसीएफ के जिला प्रबंधक जेबी सिंह नेबताया कि उत्तर प्रदेश कोआपरेटिव फेडरेशन लिमिटेड के प्रबंध निदेशक ने कहा कि विगत वर्षों जिन क्रय केन्द्रो व समितियों पर गबन , अपहरण एवं एफआईआर दर्ज कराई गयीं हो या किसी प्रकार का विवाद हो तो उसे किसी भी दशा में क्रय केन्द्र न बनाया जाए.
श्री सिंह ने कहा कि विगत वर्षों से सीएफआर दबा कर बैठने वाली 32  समितियों को इन साल क्रय केन्द्र नहीं बनाया गया है। इनमें भैसहिया बुजुर्ग,परतावल, मंगलपुर, बेलवा टीकर , भिटौली, बीजापार, हड़तोड़हिया, लक्ष्मीपुर एकडंगा, बेलभरिया, निचलौल, परसाबेनी, बहदुरी बाजार, चौक, रतनपुरवा, नरकटहा,जड़ार,मिर्जापुर पकड़ी, अरदौना, हरपुर तिवारी, खरहरवा, महुअवा अड्डा, बेलवा खुर्द, गड़ौरा,श्यामदेउरवा, टीकर,जमुई जगदौर, तथा लेजार महदेवा आदि के नाम हैं ।
पीसीएफ को वर्ष 2017-18 के लिए धान खरीद के लिए 59 क्रय केन्द्र प्रस्तावित व अनुमोदित हो चुके है। इन सभी केन्द्रों को बैनर स्टेशनरी उपलब्ध कराने दिया गया है।
इसके  बाद भी कुई दागी समितियों के लोग अनावश्यक रूप से क्रय केन्द्र बनवाने के लिए दबाव बना रही है। इसके पीछे विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी का नाम आ रहा है जो स्वयं केन्द्रों को प्रस्तावित कराना चाहते हैं