Uncategorized

दिल्‍ली की तरह बैंगलुरु में भी लागू हो सकता है ऑड-इवन फॉर्मूला

वायु प्रदूषण देश के लिए कैंसर वाहनों के परिचालन की वजह से शहरों में प्रदुषण की दर गाँव की तुलना में अधिक है। पिछले साल के अप्रैल महीने में प्रधानमन्त्री द्वारा ‘राष्ट्रीय एयर क्वालिटी इंडेक्स’ (AQI) प्रणाली का शुभारम्भ किया गया। जो की हवा की गुणवत्ता मापने का एक वैश्विक मानक है इसे उन शहरों में लागू किया जाएगा जिनकी जनसँख्या 10 लाख से अधिक है और शुरुआत इसकी 10 प्रमुख शहरों से की गयी थी। गांव से ज्यादा शहर प्रदूषित इन दस में उत्तर प्रदेश के प्रमुख शहरों में आगरा, लखनऊ, कानपुर, बनारस, मेरठ शामिल हैं, इसके लागू होने के बाद से ही इसके नतीजे बेहद ही चौकाने वाले थे जहां दिल्ली की आबोहवा को विश्व का सबसे प्रदूषित शहरों को होड़ में प्रथम स्थान पर पाया गया वहीं ,उत्तर प्रदेश की राजधानी एवं नवाबों का शहर लखनऊ भी पीछे ना रहा।

Add Comment

Click here to post a comment