समाचार स्वास्थ्य

देश के सभी मेडिकल कालेजों की तस्वीर बदलेंगे-जेपी नड्डा

बीआरडी  मेडिकल कालेज में आठ विभागों वाले सुपर स्पेशियलिटी ब्लाक का शिलान्यास, भौतिक चिकित्सा एवं पुनर्वास केन्द्र का शुभारंभ
गोरखपुर, 1 अक्टूबर। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री जेपी नड्डा ने आज बीआरडी मेडिकल कालेज में मेडिकल कालेज को अपग्रेड कर बनाए जा रहे 8 विभागों वाले सुपर स्पेशियलिटी ब्लाक का शिलान्यास और भौतिक चिकित्सा एवं पुनर्वास केन्द्र का शुभारंभ किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि हम देश के सभी मेडिकल कालेजों की तस्वीर बदलने का काम कर रहे हैं। उन्होंने नेशनल वायरोलाजी इंस्टीट्यूट की गोरखपुर स्थित फील्ड यूनिट को रीजनल वायरोलाजी केन्द्र बनाने, इंसेफेलाइटिस इलाज के लिए उपकरण व मानव संसाधन के लिए धन तथा बाल रोग विभाग में पीजी की छह सीटों को एमसीआई से मान्यता दिलाने के लिए आश्वासन दिया।
श्री नड्डा ने कहा कि केन्द्र सरकार पूर्वी, मध्य और उत्तरी भारत में एम्स स्थापित कर उच्चतर स्वास्थ्य सेवाओं को सदृढ़ करने का प्रयास कर रही है। पूर्वी उत्तर प्रदेश में एक हजार की लागत से गोरखपुर में एम्स, बीआरडी मेडिकल कालेज में डेढ़ सौ करोड़ की लागत से आठ सुपर स्पेशियलिटी ब्लाक तथा बस्ती व फैजाबाद में 200-200 करोड़ की लागत से जिला अस्पतालों को अपग्रेड कर मेडिकल कालेज बनाए जाने का कार्य हमने सिर्फ दो वर्षों मे शुरू किया है। उन्होंने जापानी इंसेफेलाइटिस को नोटिफाएबल डिजीज घोषित किए जाने का जिक्र करते हुए कहा कि इससे इस बीमारी की सही तस्वीर सामने आएगी और इसके रोकथाम में मदद मिलेगी।
उन्होंने सदर सांसद योगी आदित्यनाथ की मांग पर कहा कि नेशनल इंस्टीच्यूट आफ वायरोलाजी की फील्ड यूनिट को रीजनल सेंटर बनाने का आश्वासन एक बार फिर दुहराया। उन्होंने बीआरडी मेडिकल कालेज के प्राचार्य डा आरके मिश्र की मांग पर बाल रोग विभाग की 6 पीजी सीटों को एमसीआई से मान्यता दिलाने में मदद करने, इंसेफेलाइटिस मरीजों के इलाज के लिए उपकरण, दवा व मानव संसाधन के लिए आवश्यक बजट दिलाने का भी आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि आप खर्च करिए हम धन की कमी नहीं होने देंगे।
इस मौके पर उत्तर प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा राज्य मंत्री राधेश्याम सिंह ने प्रदेश में स्वास्थ्य और चिकित्सा के क्षेत्र में किए गए कार्यों का उल्लेख किया। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार राज्य मंत्री अनुप्रिया पटेल ने किया कि यह सुपर स्पेशियलिटी ब्लाक 18 महीने मेँ बन कर तैयार हो जाएगा। इसकी लागत 150 करोड़ है जिसमें 120 करेाड़ केन्द्र सरकार और 30 करोड़ राज्य सरकार देगी। इसमें न्‍यूरोसर्जरी, यूरोलॉजी, गैस्‍ट्रो सर्जरी, कार्डियोथोरेसिक वैस्‍कुलर सर्जरी, कार्डियोलॉजी, न्‍यूरोलॉजी, गैस्‍ट्रोइंट्रोलॉजी और नेफ्रोलॉजी विभाग होंगे।

f3c4e061-c0fc-4671-9b55-5ef4a1f1f068

सदर सांसद योगी आदित्यनाथ ने मेडिकल कालेज में न्यू नेटल आईसीयू को विस्तारित करने, इंसेफेलाइटिस मरीजों के लिए और संसाधन बढ़ाने, बाल रोग विभाग की 6 पीजी सीटों को मान्यता दिलाने, एनआईवी की फील्ड यूनिट को रीजनल सेंटर बनाने की मांग की। इस अवसर पर राज्य सभा सदस्य शिव प्रताप शुक्ल। सांसद कमलेश पासवान, नगर विधायक डॉ राधा मोहन दास अग्रवाल आदि उपस्थित थे।

इसके पहले केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री जेपी नड्डा ने इन्सेफेलाइटिस वार्ड का भी निरीक्षण किया।

Add Comment

Click here to post a comment