निकाह, तलाक़, फस्खे निकाह, खुला पर वृहद जागरुकता अभियान 23 से

जनसभा, जलसा, विचार गोष्ठी का होगा आयोजन 

अशफाक अहमद
गोरखपुर, 22 अप्रैल। जमाअत इस्लामी हिन्द ने पूरे देश में 23 अप्रैल से 07 मई तक मुस्लिम पर्सलन लाॅ जागरुकता अभियान चलाने का निर्णय लिया है। इस सम्बन्ध में गोरखपुर नगर में अनेक कार्यक्रम होंगे। शहर के विभिन्न भागों में जनसभायें, जलसे, विचार गोष्ठी, सिम्पोजियम तथा अलग से विशेष तौर पर महिलाओं के लिये भी कार्यक्रम होंगे।
जमाअते इस्लामी हिन्द गोरखपुर के सचिव, प्रचार एवं प्रसार विभाग प्रो0 अशफाक़ अहमद अंसारी ने बताया कि समाज के लोग विशेषकर मुस्लिम समाज निकाह, तलाक़, फस्खे निकाह, खुला आदि के विषय में इस्लामी शिक्षा तथा इसके निर्देषों की वास्तविक जानकारी नहीं रखते हैं। अतः मुसलमान इस सम्बन्ध में ऐसा दोषपूर्ण आचरण कर देते हैं जिससे पारिवारिक समस्यायें उत्पन्न हो जाती हैं तथा इस्लाम की छवि भी खराब होती हैैं। अतः जमाअते इस्लामी हिन्द ने निर्णय किया कि मुसलमानों को इस विषय पर शिक्षित किया जाये तथा मुसलमानों की अज्ञानता दूर हो। दूसरी बात यह है कि भारत के संविधान के अध्याय 3 (मौलिक अधिकार) में धर्म और अन्तरात्मा की आजादी एक मौलिक अधिकार के अन्तर्गत स्वीकार किया गया है। धर्म की स्वतंत्रता हमें इस बात की आजादी देती है कि हम अपनी शरीअत के कानून का पालन कर सकते हैं और अल्लाह द्वारा प्रदत्त कानूनों में संशोधन करने का अधिकार किसी को नहीं है। इसी के आधार पर मुस्लिम समाज में जागरुकता फैलाने की आवश्यकता है।
अंग्रेजों के शासन में मुसलमानों की मांग पर 1937 ई0 में शरीअत अप्लिकेशन ऐक्ट 1937 पास हुआ था जिसके अनुसार निकाह, तलाक, खुला, फस्खे निकाह
(निकाह को खत्म करना), परवरिश, मीरास, वसीयत सम्बन्धित मामलों में जहां
दोनों पक्ष मुसलमान होंगे तो शरीअत के अनुसार उनका फैसला होगा, चाहे उनकी रीति रिवाज कुछ भी हों।
इन सभी विषयों पर विशेषकर मुसलमानों को शिक्षित करने तथा समस्त भारत वासियों को जानकारी देने हेतु मुस्लिम पर्सलन लाॅ जागरुकता अभियान चलाया
जा रहा है। इसके  तहत  23 अप्रैल को सवेरा मैरेज हाउस, पुराना गोरखपुर, में दोपहर 2 बजे महिलाओं के लिये एक सिम्पोज़ियम होगा जिसकी अध्यक्षता श्रीमती तस्नीम नुज़हत करेंगी।
26 अप्रैल को दोपहर 12 बजे प्रेस क्लब में प्रेस कान्फ्रेंस और उसी दिन सांय 07 बजे एम0एस0आई0 इण्टर कालेज के आडिटोरियम बख्शीपुर में एक सिम्पोज़ियम होगा । जिसकी अध्यक्षता जमाअते इस्लामी हिन्द के राष्ट्रीय सचिव मो0 इकबाल मुल्ला करेंगे और शहर के विद्वानगण भी अपने विचार रखेंगे।

Leave a Comment

Skip to toolbar