Templates by BIGtheme NET
Home » राज्य » निजीकरण के खिलाफ आंदोलनरत बिजली कर्मचारियों के साथ माले नेताओं ने धरना दिया
electric workar_cpi ml

निजीकरण के खिलाफ आंदोलनरत बिजली कर्मचारियों के साथ माले नेताओं ने धरना दिया

गोरखपुर.भाकपा माले के नेता और कार्यकर्ता बिजली विभाग के निजीकरण के खिलाफ आंदोलनरत कर्मचारियों के समर्थन में 4 अप्रैल को मोहद्दीपुर स्थित मुख्य अभियंता कार्यालय के जाकर धरने पर बैठे.
इस मौके पर माले के जिला सचिव राजेश साहनी ने कहा कि योगी सरकार कम्पनियो को मुनाफा दिलाने के लिए जनता के हित को बलिदान कर रही है.
उन्होंने कहा कि गोरखपुर सहित पूरे प्रदेश में विगत 15 दिन से बिजली विभाग को बचाने के लिए आंदोलन हो रहा है, लेकिन प्रदेश सरकार तानाशाह की भाति अभी तक संज्ञान नही ली है। सरकार का निर्णय निजी कंपनियों के मुनाफा के लिए प्रदेश की जनता को अंधेरे में धकेल देने पर आमादा है।
राजेश साहनी ने कहा कि भाकपा माले संघर्ष समिति के आंदोलन के साथ है. आन्दोलन को और आगे ले जाने के लिए सभी संगठनों एवं आम जनता को साथ आना चाहिए.
कर्मचारियों की सभा को संबोधित करते हुए एक्टू के जिला संयोजक आर के सिंह ने कहा कि जहाँ-जहाँ बिजली विभाग को निजी कंपनियों को दिया गया वहां वहां परिणाम कर्मचारियों की छटनी, बिजली के दाम के बढ़ोतरी के रूप में आया है.  इसलिए इसका पुरजोर विरोध होना चाहिए।
आंदोलन के समर्थन में इंकालबी नौजवान सभा के महानगर सचिव सोनू श्रीवास्तव. खेग्राम्स जिला सचिव विनोद भरद्वाज, भगत सिंह छात्र मोर्चा के संयोजक शैलेश कुमार भी साथ मे रहे।

About गोरखपुर न्यूज़ लाइन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*