Templates by BIGtheme NET
Home » राज्य » निषाद पार्टी ने अपने इकलौते विधायक विजय मिश्रा को निलम्बित किया, सदस्यता समाप्त की
dr sanjay nishad

निषाद पार्टी ने अपने इकलौते विधायक विजय मिश्रा को निलम्बित किया, सदस्यता समाप्त की

निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा. संजय निषाद ने कहा-विजय मिश्रा ने मतदाताओं और पार्टी के साथ धोखा किया है

गोरखपुर, 25 मार्च। निर्बल इंडियन शोषित हमारा आम दल (निषाद पार्टी ) ने राज्यसभा चुनाव में बीजेपी प्रत्याशी के पक्ष में मतदान करने वाले अपने इकलौते विधायक विजय मिश्रा को पार्टी से निलम्बित कर दिया है और उनकी सदस्यता समाप्त कर दी है। श्री मिश्र को विधानासभा की सदस्यता समाप्त करने के लिए भी निषाद पार्टी विधानसभा अध्यक्ष को पत्र लिखेगी।

यह जानकारी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा. संजय कुमार निषाद ने एक विज्ञप्ति में दी। उन्होंने कहा कि ज्ञानपुर से निषाद पार्टी के टिकट पर जीते विजय मिश्र ने राज्य सभा चुनाव में पार्टी के दिशा-निर्देश का उल्लंघन कर बीजेपी प्रत्याशी को वोट दिया। ऐसा कर उन्होंने मतदाताओं और पार्टी के साथ धोखा किया है।

डा. संजय कुमार निषाद ने कहा कि वर्ष 2017 के विधानसभा चुनाव में विजय मिश्रा को सभी दलों ने धक्का मारकर निकाल दिया था। तब निषाद पार्टी ने उन्हें टिकट दिया और जीता कर विधानसभा में भेजा लेकिन उन्होंने पार्टी को धोखा दिया। समय आने पर मतदाता और पार्टी उन्हें माकूल जवाब देगी।
डा. संजय ने कहा कि निषाद पार्टी शोषितों, गरीबों, निर्बलों की पार्टी है। बीजेपी पूंजीवादी,सामंतवादी विचारधारा की पार्टी है। विजय मिश्रा ने ऐसी पार्टी का साथ हाथ मिलाकर निषाद पार्टी के सिद्धान्तों का उल्लंघन किया है। उन्होंने आरोप लगाया कि विजय मिश्रा पार्टी के अंदर कार्यकर्ताओं की तोड़फोड़ कर रहे हैं और पार्टी पदाधिकारियों को धमका रहे हैं। यदि प्रदेश में या देश के किसी भी हिस्से में किसी कार्यकर्ता, पदाधिकारी पर हमला होता है या कोई दुर्घटना होती है तो विजय मिश्रा उसके जिम्मेदार होंगे। इसकी सूचना प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति, गृहमंत्री, मुख्यमंत्री, डीजीपी को भेज दी गई है।

About गोरखपुर न्यूज़ लाइन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*