breaking news समाचार

पनियरा से तलत अज़ीज़, फरेंदा से वीरेंद्र चौधरी और खजनी से कमल किशोर कमांडो कांग्रेस प्रत्याशी

कांग्रेस ने गोरखपुर-बस्ती मंडल की 9 सीट पर उम्मीदवार घोषित किए

गोरखपुर शहर से राणा राहुल सिंह बने कांग्रेस उम्मीदवार
सैयद फरहान अहमद
गोरखपुर, 2 फरवरी। कांग्रेस ने गुरुवार को तीसरी सूची में गोरखपुर मंडल की सात और बस्ती मंडल की दो सीट पर उम्मीदवार घोषित कर दिए।

Talat Aziz

तलत अज़ीज़

जिला गोरखपुर की गोरखपुर शहर सीट से राणा राहुल सिंह व खजनी (सु) सीट से कमल किशोर को टिकट मिला हैं।

राणा कृष्ण किंकर सिंह

राणा कृष्ण किंकर सिंह

कुशीनगर की तमकुहीराज सीट से सीटिंग विधायक अजय कुमार लल्लू व पडरौना से शिव कुमारी देवी को मौका दिया गया हैं। देवरिया की रुद्रपुर सीट से सीटिंग विधायक अखिलेश प्रताप सिंह को दुबारा मौका मिला हैं। महराजगंज की पनियरा सीट पर तलत अजीज व फरेंदा की सीट से वीरेन्द्र चौधरी दुबारा टिकट पाने में कामयाब हो गये हैं। जिला बस्ती की कप्तानगंज सीट से कृष्ण किंकर सिंह को दुबारा मौका मिला हैं। रुधौली से सईद खान उम्मीदवार बनाये गये हैं।

अजय कुमार लल्लू

अजय कुमार लल्लू

कांग्रेस की सूची जारी होने के बाद गठबंधन का पेंच फरेंदा, रुधौली, में फंस गया हैं। फरेंदा से तो विनोद मणि त्रिपाठी सपा के सीटिंग विधायक हैं। सपा से टिकट भी मिल चुका हैं। यहां घमासान की पूरी गुंजाइश हैं। हालांकि रुधौली से कांग्रेस ने जीत हासिल की थी लेकिन सपा ने यहां से राम ललित चौधरी को टिकट दिया हैं। यहां भी बगावत हो सकती हैं। कांग्रेस ने दो मुस्लिम व दो महिला उम्मीदवार को मौका दिया हैं। महराजगंज (सु), खलीलाबाद, डुमरियागंज, कैंपियरगंज पर अभी फैसला बाकी हैं। महराजगंज (सु) पर सपा का सीटिंग विधायक हैं लेकिन टिकट का ऐलान नहीं हुआ हैं। गोरखपुर जिलाध्यक्ष ने दावा किया हैं कि कैंपियरगंज सीट सपा के खाते में हैं। यानी यहां से चिंता यादव ही लड़ेंगी दावे के मुताबिक। सपा ने 30 तो कांग्रेस ने 9 उम्मीदवार उतारे हैं। दो सीट पर सपा-कांग्रेस दोनों के उम्मीदवार हैं देखना दिलचस्प होगा कि दोनों सीटों पर दावेगारी कौन वापस लेता हैं और बची सीटों में सपा व कांग्रेस को कितनी मिलती हैं।

IMG_1028

सपा-कांग्रेस गठबंधन के बाद कांग्रेस 105 सीटों पर चुनाव लड़ रही हैं।कांग्रेस को गोरखपुर-बस्ती मंडल में केवल 9 सीटें मिलने की तस्दीक गोरखपुर न्यूज लाइन ने पहले ही कर दी थीं।
पिछले चुनाव में कांग्रेस ने 41 सीटों पर उम्मीदवार उतारे थे जिसमें पांच कामयाब हुये थे। जिसमें रुद्रपुर के अखिलेश प्रताप सिंह व तमकुहीराज से अजय कुमार लल्लू को टिकट मिलना तय माना जा रहा था। कांग्रेस पर पांच सीटों पर जीत हासिल करने का दबाव रहेगा। पिछले चुनाव में जितनी भी सीटें निकली वह नये परिसमीन की वजह से निकली चाहे वह बस्ती का रूद्धौली, महराजगंज का नौतनवां हो या कुशीनगर का खड्डा, तमकुहीराज हो। लेकिन जितने भी सीटिंग विधायक थे सब चुनाव हार गए थे। वर्ष 2007 के चुनाव में कांग्रेस ने 4 सीट हासिल की थीं। वहीं वर्ष 2012 के चुनाव में नये परिसीमन की वजह से 5 सीटें मिली । एक  सीट का फायदा हुआ था।

👉गोरखपुर-बस्ती मंडल की इन सीटों पर कांग्रेस उम्मीदवार
👉गोरखपुर
गो. शहर — राना राहुल सिंह
खजनी( सु)– कमल किशोर
👉महराजगंज
पनियरा — तलत अजीज
फरेंदा – वीरेंद्र चौधरी
👉कुशीनगर
पडरौना — शिव कुमारी देवी
तमकुहीराज– अजय कुमार लल्लू
👉देवरिया
रुद्रपुर — अखिलेश प्रताप सिंह
👉बस्ती
कप्तानगंज — कृष्ण किंकर सिंह
रुधौली – सैय्यद खान
—————-
👉विधानसभा चुनाव 2012 में गोरखपुर की इन दो विधानसभा सीटों पर कांग्रेस की स्थिति 

1-खजनी( सु) – राजनारायण पासी चौथा स्थान–9067 मत- 5.49 फीसद
2-गोरखपुर शहर -नरेंद्र मणि तिवारी- चौथा स्थान–11171 मत – 6.77 फीसद
——————-
👉उप्र विस चुनाव 2012 में गोरखपुर-बस्ती मंडल में इन सीटों पर कांग्रेस की परफार्मेंस
👉महराजगंज
फरेंदा –दूसरा स्थान-34586 मत- 18.97 फीसद
पनियरा — चौथा स्थान -35451 मत- 16.78 फीसद

👉कुशीनगर
पडरौना — दूसरा स्थान-34022-18.07 फीसद
तमकुहीराज– जीत

👉देवरिया
रुद्रपुर — जीत हासिल- 40783मत- 26.36 फीसद

👉बस्ती
कप्तानगंज — तीसरा स्थान – 46636 मत- 24.94 फीसद
रुधौली — जीत हासिल – 55950मत- 27.55 फीसद

—————————–
👉वर्ष 2012 के विधानसभा चुनाव में विजयी कांग्रेस उम्मीदवार

1. रूधौली में संजय जयसवाल (पार्टी छोड़ चुके) (भाजपा से टिकट मिला हैं)

2. नौतनवां में कुंवर कौशल मुन्ना सिंह ( पार्टी छोड़ चुके ) (सपा से टिकट मिला हैं)

3. खड्डा में विजय दूबे (पार्टी छोड़ चुके)(भाजपा ने भी टिकट नहीं दिया)

4. रूद्रपुर में अखिलेश प्रताप सिंह

5. तमकुहीराज में अजय कुमार

👉वर्ष 2007 के विधानसभा चुनाव में विजयी कांग्रेस उम्मीदवार

1. शोहरतगढ़ — चौधरी रविन्द्र प्रताप

2. चौरी चौरा — माधो प्रसाद

3. पडरौना — कुंवर आरपीएन सिंह

4. नौगढ़ — ईश्वरचंद शुक्ल
———————⁠⁠⁠⁠

Leave a Comment