समाचार

परिषदीय विद्यालय सोनबरसा ने की वार्षिकोत्सव मनाने की पहल

परिषदीय विद्यालय के बच्चों ने दिखाई अपनी प्रतिभा

सिसवा बाज़ार (महराजगंज) 23 जनवरी। परिषदीय विद्यालयों के शिक्षा व्यवस्था पर उठते सवाल पर विराम लगाते हुए सिसवा विकासखंड के ग्राम सोनबरसा स्थित प्राथमिक एवं पूर्व माध्यमिक विद्यालय ने वार्षिकोत्सव का शुभारंभ कर समाज को एक नया संदेश देने का प्रयास किया है। इस विद्यालय के छात्र-छात्राओं ने अपनी प्रतिभाओं का प्रदर्शन कर लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया।
सिसवा ब्लाक के पूर्व माध्यमिक व प्राथिमक विद्यालय ने संयुक्त रूप से एक परंपरा का शुरुआत करते हुए ये साबित कर दिया कि वह भी निजी स्कूलों से किसी भी दशा में पीछे नहीं है।सोमवार को इस विद्यालय के वार्षिकोत्सव का शुभारंभ मुख्य अतिथि खंड शिक्षा अधिकारी धर्मेंद्र पाल, उत्तर प्रदेशीय पूर्व माध्यमिक प्राथमिक शिक्षक संघ के ब्लॉक अध्यक्ष सत्येन्द्र मिश्रा व सिसवा बीआरसी के सह समन्वयक अरुण कुमार सिंह ने किया। इस दौरान प्राथमिक विद्यालय की छात्राओं ने सरस्वती वंदना के बाद गीत के माध्यम से अतिथियों का स्वागत किया। इस विद्यालय के बच्चों ने मद्यपान निषेध, साक्षरता, देश भक्ति , हास्य व्यंग ,नाटक तमाम राष्ट्रीय सामाजिकता से परिपूर्ण प्रस्तुतियों से उपस्थित अतिथियों एवं जनसमूह को मंत्रमुग्ध कर दिया।

primary school sonbarasa 2

मुख्य अतिथि खंड शिक्षा अधिकारी धर्मेंद्र पाल ने इस अवसर पर कहा कि मौजूदा समय में समाज के तमाम लोग अपने बच्चों को राजकीय प्राथमिक विद्यालयों में पढ़ने के लिए भेजने से परहेज करते हुए निजी एवं कान्वेंट स्कूलों में अपने बच्चों का दाखिला दिलवाकर गर्व की अनुभूति कर रहे हैं। इसके पीछे उनका मात्र यही सोच है कि परिषदीय विद्यालयों में शिक्षा के गुणवत्ता का अभाव है। लेकिन आज यह विद्यालय यह सिद्ध कर दिया कि भारी भरकम शुल्क वाले निजी एवं कान्वेंट स्कूलों से हम कहीं भी पीछे नहीं है। खण्ड शिक्षा अधिकारी ने इस विद्यालय के शिक्षक शिक्षिकाओं की सराहना करते हुए बच्चों के उज्जवल भविष्य की कामना की।

कार्यक्रम के दौरान अवकाश प्राप्त अध्यापक अब्दुल रज्जाक, विद्यासागर पांडेय   सहित अध्यापक बैजनाथ, सत्यवान दूबे, जितेंद्र कुमार सिंह लाल बिहारी आदि को अंगवस्त्र स्मृति चिन्ह दे कर सम्मानित किया गया। इस आयोजन में सोनबरसा ग्राम प्रधान भूखल साहनी चैनपुर ग्राम प्रधान दिनेश तिवारी का सराहनीय योगदान रहा। कार्यक्रम का संचालन राष्ट्रिय ख्याति प्राप्त एंकर व परिषदीय विद्यालय के अध्यापक आरविंद जायसवाल “सरस” ने किया. विद्यालय प्रधानाध्यापक दीनानाथ शुक्ला ने उपस्थित अतिथियों तथा  गणमान्य नागरिकों के प्रति आभार व्यक्त करते हुए लोगों से अपील किया कि वह अपने पाल्यों को परिषदीय विद्यालयो में शिक्षा ग्रहण करने के ज़रूर भेजे। इस दौरान विद्यालय के शिक्षक शिक्षिकाओं के अलावा काफी संख्या में ग्रामीण उपस्थित रहे।

Skip to toolbar