समाचार

बजट में गोरखपुर को तीन सौगात, चीनी मिल, प्रेक्षागृह और वाटर स्पोर्ट्स

गोरखपुर, 11 जुलाई। योगी सरकार के पहले बजट में उनके गृहजिले को 318.5 करोड़ की तीन सौगत मिली है। बजट में पिपराईच में नई चीनी मिल के लिए 273.5 करोड़, नए आधुनिक प्रेक्षागृह के लिए 20 करोड़ और रामगढ़ ताल में वाटर स्पोर्ट्स के लिए 25 करोड़ रूपए मंजूर किए गए हैं।
इन योजनाओं के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पहले ही घोषणा कर चुके हैं। मुख्यमंत्री बनने के बाद दूसरी बार गोरखपुर आगमन पर उन्होंने रामगढ़ ताल क्षेत्र में आधुनिक प्रेक्षागृह का शिलान्यास भी किया था। अब इसके लिए 25 करोड़ का बजट मंजूर होने पर इसका निर्माण कार्य शुरू हो सकेगा।
बजट में रामगढ़ ताल में वाटर स्पोर्ट्स शुरू करने के लिए 25 करोड़ दिए गए हैं।
पिपराइच में चीनी मिल वर्षों से बंद है। नई चीनी मिल लगाने के लिए 50 एकड़ भूमि भी अधिगृहीत की गई थी लेकिन चीनी मिल नहीं बनी। मुख्यमंत्री बनने के बाद योगी आदित्यनाथ ने पिपराइच में नई चीनी मिल बनाने की घोषणा की थी। उन्होंने अपना वादा पूरा करते हुए इस बजट में नई चीनी मिल के लिए 273.5 करोड़ रूपए की व्यवस्था कर दी है।
नई चीनी मिली कोआपरेटिव सेक्टर की होगी और इसमे बिजली उत्पादन भी होगा। इसकी क्षमता 3500 से पांच हजार टीसीडी की होगी।
गोरखपुर जिले में तीन चीनी मिले हैं और इस वक्त तीनों बंद हैं। सरैया सुगर मिल प्राइवेट सेक्टर की है जो बंद है जबकि धुरियापार चीनी मिल कोआपरेटिव सेक्टर की है।
बजट में बस्ती जिले के मुंडेरवा में भी बंद चीनी मिल के स्थान पर नई चीनी मिल की स्थापना के लिए 270 करेाड़ रूपए मंजूर किए गए हैं। यहां भी कोआपरेटिव सेक्टर की 7500 टीसीडी क्षमता की चीनी मिल स्थापित होगी। बजट में सठियांव चीनी मिल को पूरा करने के लिए 33.33 करोड़ और रामला कोआपरेटिव सुगर मिल की क्षमता बढ़ाने के लिए 27.50 करोड़ रूपए दिए गए हैं।
बजट में उत्तर प्रदेश के मेट्रो रेल परियोजनाओं के लिए 288 करोड़ दिए गए हैं। गोरखपुर को भी इससे फायदा होगा क्योंकि यहां पर मेट्रो रेल के लिए सर्वे का कार्य चल रहा है।
बजट में स्पेशल योजना के लिए बुंदेलखंड को 200 करोड़ और पूर्वांचल को 300 करोड़ दिए गए हैं। इससे भी गोरखपुर और आस-पास के जिलों के विकास कार्यक्रम को मदद मिलेगी। इसके अलावाउ 2800 करोड़ के ग्राउंड वाटर बेस्ड रूरल डिकिंग स्कीम, स्वदेश दर्शन योजना के लिए रामायण सर्किट, बुद्धा सर्किट व कुष्ण सर्किट के लिए बजट मंजूर होने से पूर्वांचल को भी मदद मिलेगी।

Leave a Comment