जनपद

बहन की शादी की बात कर लौट रहे युवक की गोली मार कर हत्या

सिसवा बाजार (महराजगंज), 26 अगस्त. गुरुवार को रात में अपने मित्र के साथ कसया से अपने बहन की रिश्ते की बात कर लौट रहे युवक को बदमाशो ने कस्बे के प्रेमचित्र मंदिर के पास पेट में गोली मार दी।युवक को घायल अवस्था में आसपास के लोगो ने तत्काल सिसवा पीएचसी पर पहुंचाया जहां चिकित्सको ने गंभीर स्थिति  को देखते हुए रेफर कर दिया परंतु गोरखपुर मेडिकल कॉलेज पहुँचते ही उसकी मौत हो गई।
कस्बे के छावनी टोला निवासी 25 वर्षीय चंद्रशेखर मद्धेशिया उर्फ़ छोटू पुत्र महंथ मद्धेशिया अपने मित्र गोपालनगर निवासी ईश्वर मद्धेशिया पुत्र रामबृक्ष के साथ रिश्तेदारी में अपने बहन की शादी के लिए लड़का देख कर वापस लौट रहा था। रात को 10:45 बजे के करीब उसका पीछा कर रहे बदमाशो ने कस्बे के प्रेम चित्र मंदिर के सामने गोली मार दी और फरार हो गए.  घायल युवक को तत्काल सिसवा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र लगया जहां गंभीर हालत को देख कर चिकित्सको ने गोरखपुर मेडिकल कालेज के लिए रेफर कर दिया।परंतु रास्ते में ही युवक की मौत हो गयी।

हत्या_सिसवा

मृतक के  मित्र ईश्वर का कहना है की गुरुवार को छोटू के कहने पर उसके बहन की शादी के लिए अपने रिश्तेदारी में लड़का दिखाने कप्तानगंज ले गया था।वहां पहुंचने के बाद पता चला कि लड़के की शादी कही और तय हो चुकी है उसके बाद लगभग 6 बजे  के करीब कसया अपने मौसी के लड़के को दिखने ले गया वहाँ रिश्ता समझ में आ गया फिर हम लोग सायं 8 बजे कसया से घर के लिए वापस चल दिये। कप्तानगंज पहुँच कर हम दोनों ने शराब पी और फिर घर के लिए चल पड़े जब घुघली पेट्रोल टंकी के पास पहुंचे तो पहले से खड़े तीन बदमाश एक बाइक पर सवार हो कर पीछा करते हुए बननी ढाला के पास ओवरटेक कर रोकने का प्रयास किया खतरा भांप कर गाडी की गति बढ़ा दी और बरवां द्वारिका के पास एक आदमी के दुकान पर हम लोग खड़े हो कर एक वृद्ध से बात करने लगे उसी दौरान बदमाश सिसवा की ओर निकल गए।फिर थोड़ी देर बाद हम लोग भी घर के लिए निकले रास्ते में बदमाश कही नज़र नही आये परन्तु जैसे ही हम लोग 10:45 बजे के करीब प्रेमचित्र मंदिर के पास पहुंचे तब तक बदमाश भी आगये उन्हें देख छोटू ने कहा कि ये तो वही है जो पीछा कर रहे थे।ये सुन बदमाशो ने गाड़ी से उतर कर हम लोगो से भीड़ गए।उसमे से एक आदमी ने कट्टा निकाला जिसे मैंने पकड़ लिया और छीना झपटी करने लगा उसी दौरान दूसरा बदमाश छोटू को तमंचे से गोली मार दी,और फरार हो गए।

इस संदर्भ में थानाध्यक्ष जितेंद्र सिंह का कहना है कि घटना स्थल से कारतूस भरा हुआ एक कट्टा व एक खोखा बरामद हुआ है। मृतक के मित्र सहित एक अन्य से  पूछ ताछ चल रही है मामले की छान बीन भी की जा रही है।शव के पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ कहना मुनासिब होगा।

मृतक के मित्र का बयान संदिग्ध

मृतक चन्द्रशेखर उर्फ़ छोटू के मित्र ईश्वर द्वारा बयान बार बार बदलने से मामला और संदिग्ध  होता जा रहा है।पुलिसिया छान बीन में ईश्वर द्वारा बताई गई कई बातें सही साबित नही हो पाई है जिसको लेकर पुलिस मृतक के मित्र सहित एक अन्य से पूछ ताछ कर रही है।

हत्यारों को पहचान गया था चन्द्रशेखर

मृतक के चचेरे भाई दीपक ने बताया कि गोली लगने के बाद गम्भीर हालत देख पीएचसी के डॉक्टरों के रेफर करने पर गोरखपुर मेडिकल कालेज ले जाते समय चंद्रशेखर होश में था परन्तु अत्यधिक पीड़ा के कारण बोल नही पा रहा था।उससे पूछने के बाद की किसने गोली मारी है।तो बोला की दर्द थोड़ा कम हो जाय तो बताता हूँ परन्तु बिना बताये ही चल बसा।

कहीं सट्टेबाजी तो हत्या का कारण नही

कुछ लोगो का कहना है कि आईपीएल की सट्टेबाजी में चन्द्रशेखर भी दिलचस्पी रखता था।क्यों की सिसवा सट्टेबाजी का वर्षो से एक बहुत बड़ा हब बन गया है यहाँ क्रिकेट के सीजन में लाखों करोड़ों का वारा नारा किया जाता है।अभी पिछले दिनों गोपालनगर चौराहा निवासी एक युवक ने सट्टे में भारी नुकसान उठाने पर आत्महत्या कर लिया था।परन्तु आज तक इस सट्टेबाजी के विरुद्ध स्थानीय पुलिस कोई कार्यवाही नही कर पायी है।

पुलिस खंगाल रही है सीसी फुटेज

गुरुवार रात जिस स्थान पर घटना को अंजाम दिया गया था।उसके निकट आरके इंटरप्राइजेज में लगे सीसी टीवी कैमरे की फुटेज का शुक्रवार की सुबह पुलिस ने गहन निरीक्षण किया।परन्तु कैमरा रुख दूसरी तरफ होने के कारण कुछ ख़ास उलब्धि नही मिली.  उसके बाद उस मार्ग में जितने दुकानों पर सीसी कैमरे लगे है उन्हें पुलिस खंगालने लग गई है।

Leave a Comment