समाचार

बालू खनन रोकने के लिए आन्दोलन के 18 वें दिन विधायक के साथ ग्रामीणों ने जल सत्याग्रह किया

तमकुही राज (कुशीनगर ), 20 फ़रवरी. एपी तटबंध के पास बालू खनन के दिए गया पट्टे को निरस्त करने, तटबंध को मजबूत बनाने और बड़ी गंडक नदी की कटान से विस्थापित लोगों के पुनर्वास की मांग को लेकर विरवट कोन्हवलिया में चल रहा आन्दोलन आज अठारहवें दिन भी जरी रहा. आज ग्रामीणों के साथ कांग्रेस विधायक एवं विधानमंडल दल के नेता अजय कुमार लल्लू ने बड़ी गंडक नदी में गजल सत्याग्रह किया.

आन्दोलन के कारण बालू खनन तो बंद हो गया है लेकिन बालू खनन के पट्टे निरस्त नहीं किये गए हैं. लखनऊ से आई एक उच्चस्तरीय टीम मौके का निरीक्षण कर जा चुकी है. तीन दिन पहले डीएम और एसपी भी आये थे लेकिन ग्रामीणों ने मांग पूरी हुए बिना आन्दोलन ख़त्म न करने की बात उन्हें स्पष्ट रूप से कह दी. इसके बाद वे बैरंग लौट गए.

 

आज  धरना-प्रदर्शन के 18 वें दिन जल सत्याग्रह में ग्राम प्रधान संतोष गुप्ता,जिला पंचायत सदस्य अब्दुल मनान, डा0 रमाकांत सिंह, शिव पूजन निषाद, पूर्व प्रधान रामविलाश गुप्ता, शर्मा यादव, जे0 डी0 यादव, गोविन्द यादव, बबलू प्रसाद, राजेंद्र प्रसाद, गौतम सिंह, ओम प्रकाश पटेल, राजकिशोर सिंह, उपेन्द्र सिंह, जवाहर सिंह, प्रदीप सिंह, नारद सिंह, वृजकिशोर सिंह, जगत सिंह,सतदेव सिंह,अंशु श्रीवास्तव,  जगरनाथ प्रसाद, रमाशंकर चौरसिया,वृजकिशोर साहनी,पारस प्रसाद, विकाश तिवारी, दिनेश सिंह, ललित सिंह, संजय सिंह, धर्मेन्द्र शर्मा, बाकी सिंह, रहमान अंसारी, महेशराज सिंह, रामनाथ सिंह, एकबाल अहमद, भोला निषाद, मंजूर अली, रियाज अली, पारस यादव, रामआसरे यादव,रामबहादुर भगत, पृथ्बी प्रसाद, बाढू कुशवाहा, शिवनाथ शाह, हरिकिशुन चौधरी, फिरोज अली, रामएकबाल मद्धेशिया आदि ने भाग  लिया.

 

 

Leave a Comment