समाचार

बाढ़ के कारण मद्देनजर नागरिक मोर्चा ने 23 अगस्त का ” जनाक्रोश मार्च ” टाला

गोरखपुर , 22 अगस्त. गोरखपुर मेडिकल कालेज में आक्सीजन की कमी से हुई 60 से अधिक बच्चों की मौत के मामले मे राज्य सरकार द्वारा असल दोषियों को बचाने, स्वास्थ्य मन्त्री द्वारा कुतर्कों से मानवीय संवेदना से खिलवाड़ करने के खिलाफ “नागरिक मोर्चा” द्वारा चलाए जा रहे जनान्दोलन के क्रम मे 23  अगस्त को आहूत “जनाक्रोश मार्च ”  बाढ़ की विभीषिका और इससे आम जन को होने वाली परेशानी देखते हुए स्थगित कर दिया गया है.

यह जानकारी नागरिक मोर्चा के घटक संगठन आमी बचाओ मंच के अध्यक्ष विश्वविजय सिंह ने दी. उन्होंने बताया कि “जनाक्रोश मार्च ” मेडिकल कालेज गेट से टाऊनहाल स्थित गाँधी प्रतिमा तक होना था और इसमें राजनीतिक दल व कई संगठन शामिल थे. यह स्थगित आन्दोलन बाढ़ का संकट खत्म होते ही पुन: आरंभ किया जाएगा, जिसकी सूचना सभी को समय से दी जाएगी.

उन्होंने कहा कि  इस वक़्त गोरखपुर और आसपास के जिलों मे बाढ़ का प्रकोप तेजी पर है। सैकड़ों गावों के लाखों लोग बाढ़ की विभिषिका झेल रहे हैं। बाढ़ से बेघर हो चले लोग ज़िन्दगी बचाने की मशक्कत से गुजर रहे हैं। इस वक़्त बाढ़पीड़ितों को मदद की ज्यादा जरुरत है। सक्षम लोगों कों बाढ़प्रभावित इलाकों में जाकर पीड़ितों की हरसंभव मदद करनी चाहिए। नागरिक मोर्चा मे शामिल विभिन्न संगठनों और व्यक्तियों ने खुद भी बाढ़ प्रभावित इलाकों मे सेवा आरम्भ कर दिया हैं और सभी सक्षम संगठनों व व्यक्तियों से बाढ़पीड़ितों की मदद करने की अपील की है।

Leave a Comment