समाचार

मंत्री राधेश्याम सिंह ने भद्दी गालियां दी और धमकाया-अपर मुख्य अधिकारी

राज्य मंत्री राधेश्याम सिंह (फ़ाइल फोटो )

गोरखपुर, 1 अगस्त। कुशीनगर के जिला पंचायत के अपर मुख्य अधिकारी एएमए उमेश पटेल ने दो दिन की चुप्पी के बाद आज वह मुखर हुए और सार्वजनिक तौर पर आरोप लगाया कि प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा एवं कृषि राज्य मंत्री राधेश्याम सिंह ने उन्हें फोना पर भद्दी गालियां दीं और धमकाया। आज उन्होंने कर्मचारियों के साथ जुलूस भी निकाला और एसपी से मिलकर राज्य मंत्री के खिलाफ कार्यवाही की मांग की। उन्होंने गालियों की रिकार्डिंग वाली सीडी भी एसपी को दी।
आज दोपहर गोरखपुर न्यज लाइन से बात करते हुए उन्होंने कहा कि जो आडियो वायरल हुआ है, वह पूरी तरह सही है। राज्य मंत्री ने उन्हें गालियां दीं और धमकाया। यह पूछे जाने पर कि आखिर राज्य मंत्री की उनसे क्या नाराजगी है तो बिना नाम लिए उन्होंने कहा कि वह दो लोगों की राजनीतिक प्रतिद्वंदिता के शिकार हो रहे हैं। उनका इशारा राज्य मंत्री राधेध्याम सिंह और सपा विधायक पूर्णमासी देहाती के बेटे जिला पंचायत अध्यक्ष हरीश राणा की ओर था।
आईपीएस अमिताभ ठाकुर ने राज्य मंत्री पर मुकदमा दर्ज करने की मांग की
उधर एक नए घटनाक्रम में वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर ने
राज्यमंत्री राधेश्याम सिंह द्वारा कुशीनगर जिला पंचायत के अपर मुख्य अधिकारी उमेश पटेल को खुलेआम गालियाँ देने के मामले में अब तक एफआईआर तक दर्ज नहीं होने के दुर्भाग्यपूर्ण बताया है. उन्होंने कहा कि यह वास्तव में कष्ट का विषय है कि एक राज्यमंत्री ने एक अफसर को अत्यंत ही भद्दी-भद्दी गालियाँ दीं और यह घटना प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव सहित सभी लोगों के संज्ञान में है लेकिन अब तक मामले में कोई भी कार्यवाही नहीं हुई है। अमिताभ ठाकुर ने कहा कि उन्होंने स्वयं इस प्रकार की स्थिति का सामना किया है, अतः वे इस दर्द को अच्छी तरह समझते हैं और उन्होंने एसपी कुशीनगर से इस मामले में जाँच के नाम पर कार्यवाही टालने की जगह तत्काल मुकदमा दर्ज कर उचित कार्यवाही करने और अफसर को सुरक्षा देने की बात कही है।

दो दिन पहले वायरल हुआ था मंत्री का गालियों वाला आडियो
दो दिन पहले सोशल मीडिया पर चिकित्सा शिक्षा राज्य मंत्री राधेश्याम सिंह का एक आडियो वायरल हुआ था जिसमें वह कुशीनगर के जिला पंचायत के अपर मुख्य अधिकारी उमेश पटेल को धुंआधांर गालियां दे रहे हैं। वह इस अडियो में यह भी कह रहे है कि सपा विधायक पूर्णमासी देहाती और उनका बेटा जिला पंचायत अध्यक्ष हरीश राणा उन्हें बचा नहीं पाएंगें। आडियो को सुनने से लगता है कि राज्यमंत्री हाटा विधानसभा क्षेत्र में जिला पंचायत द्वारा विकास कार्यों के लिए धन न दिए जाने और उनके लोगों को काम न दिए जाने से नाराज हैं।
आडियो के वायरल होने के बाद एएमए उमेश पटेल चुप्पी साधे हुए थे लेकिन रविवार की रात उन्होंने एसपी को मेल कर तहरीर दी। आज सुबह वह कर्मचारियों के साथ पहले डीएम और फिर एसपी से मिलने गए। डीएम के न मिलने पर उन्होंने एसडीएम को ज्ञापन दिया फिर एसपी से मिल कर तहरीर दी जिसमें राज्य मंत्री पर गालियां देने और जान से मारने की धमकी देने का आरोप है।

Add Comment

Click here to post a comment