समाचार

मदरसा पोर्टल पर पंजीकरण कराने वाले मदरसों की संख्या 195 हुई

सैयद फरहान अहमद
गोरखपुर, 4 अक्टूबर। उप्र सरकार द्वारा जारी मदरसा पोर्टल पर मदरसों का पंजीकरण व पूर्ण विवरण अपलोड करने की तिथि 15 अक्टूबर तक बढ़ा दी गई है। विभाग द्वारा इसके मुताल्लिक लेटर जारी किया गया है। वहीं काबिलगौर मदरसा पोर्टल पर पंजीकरण तिथि बढ़ने की सूचना विभाग द्वारा अपलोड नहीं की जा रही हैं जिससे मदरसा संचालकों को बढ़ी तिथि की सूचना नहीं हो पा रही है। दो बार तिथि बढ़ चुकी है लेकिन एक बार भी बढ़ी सूचना का लेटर अपलोड करने की जहमत विभाग ने नहीं उठाई।
जिला अल्पसंख्यक कल्याण विभाग गोरखपुर के विष्णु प्रकाश राय ने बताया है कि करीब 190-195 मदरसों ने पंजीकरण व सम्पूर्ण डाटा अपलोड करके डिजिटल लॉक कर दिया है। उन्होंने गोरखपुर में कुल मदरसों की अनुमानित संख्या 253-260 के करीब बतायी है जिसमें मात्र 10 अनुदानित है।

मदरसों में होने वाली शिक्षा, मिलने वाले अनुदान और परीक्षाओं के लिए पंजीकरण समेत अन्य व्यवस्थाओं को ऑनलाइन करने के लिए सरकार ने मदरसा बोर्ड की वेबसाइट शुरू की है। इस वेबसाइट पर प्रदेश में संचालित सभी मदरसों को अपना पंजीकरण कराना है। इस संबंध में 18 अगस्त को सरकार ने आदेश जारी किया गया था। तब सरकार की तरफ से कहा गया था कि पंजीकरण की अंतिम तारीख 15 सितंबर होगी। प्रदेश में तहतानियां, फौकानियां, आलिया और उच्च आलिया स्तर के मदरसों की कुल संख्या 19,143 है। सरकार केवल 560 मदरसों को ही अनुदान देती है. सरकार ने बाकी मदरसों को पंजीकरण कराने का अंतिम मौका देने के लिए पंजीकरण की मियाद 15 दिन और बढ़ा कर 30 सितंबर कर दी थी. अब पंजीकरण मियाद 15 दिन और बढ़ा कर 15 अक्टूबर कर दी गई है।

सरकार का दावा है कि वेबपोर्टल पर आने वाली जानकारियों के बाद सभी तरह के डेटा में डुप्लीकेसी रुक जाएगी। फर्जी मदरसा शिक्षकों को तो चिह्नित कर ही लिया जाएगा। इसके अलावा फर्जी स्कॉलरशिप का खेल भी इससे रुकेगा। मदरसा पोर्टल पर पंजीकरण से पता चल जाएगा कि कितनी संख्या में छात्र पढ़ रहे हैं और कितनों को स्कॉलरशिप जानी है।  इससे पारदर्शिता आएगी और मदरसों की शिक्षा में गुणवत्ता भी लाई जा सकेगी। सरकार की योजना है कि इसके बाद इन मदरसों की लोकेशन गूगल पर अपलोड कर दी जाएगी ताकि लोग मदरसों को खोज सकें।
मदरसा बोर्ड ने साफ कर दिया है कि पोर्टल के जरिए ही 2018 में होनी वाली परिषद की मुंशी, मौलवी, आलिम, कामिल और फाजिल स्तर की परीक्षाओं को कराया जाएगा।
पंजीकरण में देनी हैं ये जानकारियां-
मदरसे का नाम और पता
मान्यता की तारीख
मदरसों में कमरों की संख्या
संस्था का नाम
छात्र-छात्राओं की संख्या
शिक्षकों की संख्या, नाम

Leave a Comment

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz