आडियो - विडियो

मदरसा शिक्षकों पर दर्ज मुकदमे की उच्च स्तरीय जांच कराने की मांग

नौतनवा विधायक अमनमणि त्रिपाठी के नेतृत्व में डीएम से मिले मदरसा शिक्षक
महराजगंज , 12 सितम्बर. अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी की पत्नी द्वारा मदरसा शिक्षकों पर दर्ज कराए गए मुकदमे की उच्च स्तरीय जांच की मांग को लेकर मरदसा शिक्षकों का एक प्रतिनिधि मंडल मंगलवार को नौतनवा विधायक अमनमणि त्रिपाठी के नेतृत्व में  जिलाधिकारी से मिला तथा पत्रक  दिया। शिक्षकों का आरोप है कि शिक्षकों पर फर्जी मुकदमा दर्ज करा कर उत्पीड़न कराया जा रहा है। अखिल भारतीय मदरसा आधुनिकीकरण शिक्षक संघ ने अपने पत्रक में कहा कि पांच सितम्बर को मदरसा शिक्षक काली पट्टी बांध कर लोकतांत्रिक तरीके से काला दिवस मना रहे थे। उस दिन करीब सवा दो बजे एसडीएम सदर ने कार्यक्रम स्थल पर जाकर ज्ञापन भी लिया। कार्यक्रम अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी के विरोध में आयोजित था।
उसी बीच जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी ने अपनी पत्नी से कोतवाली में तहरीर दिला कर आधुनिक शिक्षकों पर फर्जी तरीके से मुकदमा दर्ज करा दिया । जबकि सच्चाई यह है कि एक भी शिक्षक धरना स्थल छोड़कर न तो अल्पसंख्यक कल्याण कार्यालय पर और न ही अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी के आवास पर गया।
शिक्षकों ने कहा कि दर्ज कराए गए मुकदमे की उच्च स्तरीय जांच कराई जाए ताकि मदरसा शिक्षकों को न्याय मिल सके। डी एम से मिलने वाले मदरसा शिक्षकों में रजीम अली, अशफाक अली, राजू, इरफान, साहिद आदि के नाम हैं ।

Skip to toolbar