समाचार

मदरसे के छात्र उच्च शिक्षण संस्थान में दाखिला पाने से हुए महरूम

-रिजल्ट निकलने के तीन माह बाद भी नहीं मिली मार्कशीट
-मुंशी/मौलवी की मार्कशीट इस हफ्ते भेजी गयी
सैयद फरहान अहमद
गोरखपुर, 28 अक्टूबर। उप्र सरकार मदरसे की शिक्षा प्रणाली सुधारने का दावा भले ही कर रही हो लेकिन हकीकत इससे इतर है। सरकार सिर्फ मदरसों की जांच कराने में ही मश्गूल है। इस वजह से मदरसा शिक्षक मानदेय से महरूम है वहीं छात्र उच्च शिक्षा व मार्कशीट से।

उप्र मदरसा शिक्षा परिषद की लापरवाही का खामियाजा मदरसे के छात्र-छात्राएं भुगत रहे है। उप्र मदरसा शिक्षा परिषद की मुंशी/मौलवी (समकक्ष हाईस्कूल), आलिम (समकक्ष इंटरमीडिएट ), कामिल (स्नातक), फाजिल (परास्नातक) सत्र 2017 की वार्षिक परीक्षा का रिजल्ट 18 जुलाई को घोषित होने के बावजूद परिषद द्वारा आलिम, कामिल व फाजिल परीक्षा की मार्कशीट अभी तक नहीं भेजी गयी है। जिस वजह से उच्च शिक्षा के तलबगार मदरसे के छात्र उच्च शिक्षण संस्थान में प्रवेश पाने से करीब वंचित हो चुके हैं। वहीं परिषद द्वारा मुंशी व मौलवी की मार्कशीट इस हफ्ते भेजी गयी है। परिषद की लापरवाही से सैकड़ों छात्र-छात्राएं उच्च शिक्षण संस्थान में प्रवेश पाने से चूक गये।
वहीं वार्षिक परीक्षा का रिजल्ट घोषित होने के साथ करीब 30 प्रतिशत खामियां भी सामने आयीं थीं। जिनका अभी तक पूरे तौर पर समाधान नहीं हो पाया है। घोषित रिजल्ट में पूरी परीक्षा देने वाले सैकड़ों छात्रों को अनुपस्थित दिखा दिया गया था। कईयों को तो पेपर में शून्य देकर अनुत्तीर्ण कर दिया गया था। जबसे रिजल्ट निकला हैं छात्र-छात्राएं मदरसों का चक्कर लगाने पर मजबूर हैं।
उप्र मदरसा बोर्ड द्वारा संचालित मुंशी, मौलवी, आलिम, कामिल , फाजिल सत्र 2017 की परीक्षाएं 25 अप्रैल–10 मई तक चली थीं जिसमें जनपद के 4604 छात्र-छात्राएं शामिल हुए थे। परीक्षाओं के लिए जिले में 7 परीक्षा केंद्र बनाये गये थे। मदरसा अंजुमन इस्लामियां खूनीपुर में 10 मदरसों के 1492, मदरसा दारुल उलूम हुसैनिया इमामबाड़ा दीवान बाजार में 11 मदरसों के 1178, मदरसा अनवारुल उलूम गोला बाजार में 8 मदरसों के 586, मदरसा अरबिया शमसुल उलूम सिकरीगंज में 5 मदरसों के 670, राम जतन यादव इंटरमीडिएट कालेज भटहट में 9 मदरसों के 345, मदरसा जियाउल उलूम पुराना गोरखपुर में 7 मदरसों के 185 व मदरसा अरबिया मिसबाहुल उलूम असौजी बाजार में 3 मदरसों के 148 छात्र-छात्राएं परीक्षा में शामिल हुए थे।
जिले में मुंशी की परीक्षा में 962, मौलवी में 1098, कामिल में 1495, आलिम में 729 व फाजिल में 320 छात्र-छात्राएं परीक्षा में शामिल हुए थे। परीक्षा में जिले के 53 मदरसे शामिल हुए थे।

उप्र मदरसा शिक्षा परिषद द्वारा संचालित परीक्षा की मान्यता

1. मुंशी/मौलवी (समकक्ष हाईस्कूल) (उप्र शासन द्वारा उच्च शिक्षा एवं नियुक्ति हेतु मान्य किया गया है)
2.आलिम (समकक्ष इण्टरमीडिएट ) (उप्र शासन द्वारा उच्च शिक्षा एवं नियुक्ति हेतु मान्य किया गया हैं)

Leave a Comment

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz