महराजगंज : दल बदल सकते है कई सीटिंग एमएलए  

  • 93
    Shares

 

सिसवा और नौतनवा विधानसभा क्षेत्र के वर्तमान विधायकों के दल बदलने को लेकर सर्वाधिक चर्चा 

भाजपा के टिकट को लेकर घमासान सबसे तेज
महराजगंज, 29 अप्रैल। सूबे के सबसे पिछडे जिलों में शुमार महराजगंज जनपद की राजनीतिक गणित एक बार फिर दलबदल के फार्मूले पर आ कर खडी हो गयी है।सत्ता का बैलेंस और सीट सुरक्षित करने को लेकर कई सीटिंग एमएलए इस बार दल बदल सकते है वहीं जिले के पांचों सीटो पर भाजपा के टिकट को लेकर घमासान सबसे तेज है।
मिशन 2017 फतह को लेकर अभी से राजनीतिक विसात बिछने लगी है।सत्ता और सीट बचाने की जुगत में जुटे विधायकों की राजनीतिक गणित इस बार भी दलबदल के फार्मूले पर आकर टिक गयी है।हालाकि यह जनपद के लिये कोई नई बात नही है पिछले चुनाव में भी दलबदल फार्मूले के बदौलत ही कई विधायक सत्ता की सीढी चढे थे और इस बार कई इस फार्मूले पर खुद को सेट कर रहे है। सिसवा और नौतनवा विधानसभा क्षेत्र के वर्तमान विधायकों के दल बदलने को लेकर सर्वाधिक चर्चा हो रही है।

टिकट को लेकर कई दलो में अभी से घमासान शुरु हो गयी टिकट की जंग में भारतीय जनता पार्टी में सर्वाधिक दंगल है। खास कर भाजपा के गढ कहे जाने वाले सिसवा विधान सभा सीट पर तो यह लडाई और भी दिलचस्प है।एक दूसरे को पीछे छोडने की होड में संभावित प्रत्याशी जनसम्पर्क के साथ साथ होर्डिंग बैनर पोस्ट के जरिये अपना दमखम पेश कर रहे।अभी सिर्फ सपा ने पनियरा तो वही बसपा सिसवां व पनियरा में अपना पत्ता खोला है।अभी शेष दलो के प्रत्याशियों  के नाम क्लियर होना बाकी है।सभी पार्टीयों के प्रत्याशियों के नाम सामने आने के बाद ही असली दंगल शुरू होगा।

टिकट कटने पर बागीयों को संभालना खास कर भाजपा के लिये खासा मुश्किल भरा हो सकता है क्यो कि एक एक सीटों पर लगभग आधा दर्जन से अधिक उम्मीदवार अभी से रियाज कर रहे है।अब देखना दिलचस्प होगा कि आने वाले चुनावी रण में कौनसा और किसका दाव सबसे सटीक और भारी पडते है।

Leave a Comment

Skip to toolbar