जनपद

महिलाओं ने तोड़ी कच्ची शराब की भट्ठियाँ, पुलिस के खिलाफ सड़क जाम किया

लेहड़ा बाजार (महराजगंज), 7 अप्रैल। बृजमनगंज क्षेत्र में कच्ची शराब के कारोबार के खिलाफ क्षेत्र की महिलाओं ने गुरुवार को दोपहर बजे फरेन्दा-बृजमनगंज रोड को दुबारा जाम कर दिया।
मंगलवार को कच्ची शराब के खिलाफ विजय सलहिया चौराहे पर रोड जाम किया गया था। कच्ची शराब के खिलाफ पुलिस के द्वारा कुछ लोगो के घर जाकर भट्ठियाँ तोड़ी थी। पुलिस की कार्रवाई से असंतुष्ट एक दर्जन गाँवों की महिलाओं ने गुरुवार को 11:30 बजे फरेंदा बृजमनगंज रोड पर विजय सलहिया चौराहे पर इकठ्ठी होकर क्षेत्र में चल रहे कच्ची शराब के कारोबार के विरुद्ध जमकर नारेबाजी करते हुए दो घंटे तक रोड जाम कर दिया।

5838aad5-3180-4581-bc1e-ac51818af09c
सुचना मिलते ही 100 नम्बर की गाड़ी और दुर्गा मंदिर चौकी प्रभारी एस आई प्रभुनाथ वर्मा मौके पर पहुचे। ग्रामीणों को समझाने का प्रयास किया लेकिन महिलाये तैयार नही हुए। सुचना मिलते ही जिलापंचायत सदस्य जितेन्द्र शर्मा पहुचे। ग्रामीणों ने बताया की पुलिस जिनसे हफ्ता लेती है। उनके खिलाफ कोई कार्यवाही नही कि गई। महिलाओ ने बताया की गुलरिहा में दो घर, घोवी टोला में चार और मल्लाह टोला में छः घरो में शराब बड़े पैमाने पर बनाया और बेचा जाता है। महिलाओ का कहना था की जब तक कच्ची शराब का धन्धा बंद नही होगा जाम नही हटाया जायेगा। यातो पुलिस हम लोगो के साथ सभी शराब बेचने वालो के घर चलकर उनकी भट्ठियाँ तोड़े। पुलिस प्रभारी के तैयार होने पर तब जाकर महिलाओं का आक्रोश थमा व रोड जाम समाप्त हुआ। चौकी प्रभारी अपने पुलिस बाल के साथ महिलाओ और बच्चों के साथ गांव में गए जहाँ मल्लाह टोला पर पुरवाहि के घर के सामने जमीन के अंदर 4 ड्रम में रखे लगभग 3 कुन्तल लहन और बगल में 100 मीटर की दुरी पर लक्षी के घर के बगल से पाँच ड्रम लगभग 4 कुन्तल लहन नष्ट किया गया। बच्चों ने लक्षी के मकान के सामने खेत में 20 लीटर कच्ची शराब खोज कर निकाला जिसको नष्ट कर दिया गया। पुलिस और बच्चों द्वारा सभी ड्रम तोडा गया। बाकी सभी शराब कारोबारियों के घर के लोग ताला लगा कर फरार हो गए।
छापेमारी के दौरान चौकी प्रभारी एसआई प्रभुनाथ वर्मा, कांस्टेबल रमेश्वर यादव, अच्छेलाल यादव, शिव शंकर पाण्डेय, द्वारिका चौरसिया के साथ अकालमती, शोभा, लक्ष्मीना देवी, सरस्वती, संतोला देवी, रम्भावती देवी,  फूला देवी, अनारी देवी, विमल, रामवती, निर्मला सहित तमाम क्षेत्र की महिलाएं और बच्चे थे।

Add Comment

Click here to post a comment