breaking news समाचार

मांग पूरी होने के बाद ही हुई नर्वदा पासवान की अन्त्येष्टि

प्रशासन ने जिन्दा जलाये गए युवको के परिजनों को 13 -13 लाख रुपए और 3 -3 एकड़ जमीन देने का लिखित आश्वासन दिया 

गोरखपुर , 21 अक्टूबर। चौरी चौरा थाना क्षेत्र के डुमरी खास ग्राम में जिन्दा जलाये गए युवको के परिजनों को 13 -13 लाख रुपए और 3 -3 एकड़ जमीन देने का लिखित आश्वासन मिलने के बाद ही लोगों ने आज नर्वदा पासवान का अंतिम संस्कार किया।
10 अक्टूबर की रात को चौरी चौरा थाना क्षेत्र के डुमरी खास ग्राम में स्तिथ सीमेंट पाइप की फैक्ट्री में सो रहे दलित युवक संतोष पासवान व नर्वदा पासवान पर पेट्रोल डालकर जिंदा जला दिया गया था। घटना के दूसरे दिन ही संतोष पासवान की मौत हो गई थी और नौ दिन बाद नर्वदा पासवान ने भी दम तोड़ दिया।

fd1dfe77-c4fd-46d7-8c94-e94490f03a31

कल रात नर्वदा पासवान का शव लखनऊ से आया। आज नर्वदा पासवान के परिजनों और अम्बेडकरवादी छात्रसभा और पूर्वांचल सेना के कार्यकर्ताओ ने नर्वदा पासवान के शव को गाँव में ही रखकर मांगे पूरी न होने तक अंत्येष्टि न करने का एलान करते हुए धरना शुरू कर दिया ।

91126412-2c1e-4c07-b3da-4101dc8a72aa

पुलिस फोर्स के साथ मौके पहुचे एसडीम , सीओ , चौरी चौरा के थानेदार ने प्रदर्शनकारियों को समझाबुझाकर व दबाव डालकर शव की अंत्येष्टि करानी चाही पर वे सफल नही हुए। अमर सिंह पासवान और धीरेंद्र प्रताप से प्रशाशनिक अधिकारियो बीच तीखी नोक झोंक के साथ बहस चलती रही। अंत में आंदोलनकारियो के तेवर देखते हुए प्रशाशन के लोगो ने उच्चाधिकारियो से बात कर मृतकों के परिजनों को 13 -13 लाख रुपये और 3 -3 एकड़ जमीन के लिखित आश्वाशन के साथ शस्त्र लाइसेंस और अभियुक्तों पर रासुका लगाने का वादा किया । इसके बाद ही नर्वदा पासवान की अन्त्येष्टि हुई।