समाचार

मानक की अनदेखी कर बनाया जा रहा है रिगौली-बढ़या बाँध पर डैम्पनर

7.11 करोड़ की परियोजना पर उठे सवाल 

गोरखपुर , 2 अप्रैल। राप्ती नदी पर बने रिगौली-बढ़या बाँध पर करीब सवा सात करोड़ से बन रहे डैम्पनरो में मानकों की अनदेखी का आरोप लग रहा है। डैम्पनर के नीचे बनने वाले एप्रन और बंधे और डैम्पनर के सलोप की तरफ मानक के हिसाब से बोल्डर पिचिंग नहीं की जा रही है।

68a5db2e-68b2-4618-97e5-5793bb902c4a
ड्रेनेज खण्ड के अधीन इस बंधे पर बनने वाले तीन डैम्पनरो की लागत करीब 7.11 करोड़ है। इसमें से डेढ़ करोड़ का भुगतान भी ठेकेदार को कर दिया गया है। इस कार्य की निविदा बीते वर्ष अप्रैल माह में ही हो गयी थी लेकिन अभी कार्य महज 10 प्रतिशत भी नहीं हो पाया है। डैम्पनर के नीचे बनने वाले एप्रन में स्टीमेट के मुताबिक करीब डेढ़ मीटर ऊंचाई तक बोल्डर भरा जाना है, लेकिन नदी साइड में डेढ़ मीटर ऊँची पिचिंग की गयी है। बंधे और डैम्पनर के सलोप की तरफ महज 40 से 60 सेमी ऊंचाई तक बोल्डर पिचिंग कर खाना पूर्ति की जा रही है जिससे भारी मात्रा में बोल्डर की बचत हो साथ ही मजदूरी भी कम लगे।

7690a9b7-6832-479f-a2e0-e503af43820a

इस बावत सहायक अभियंता संत सुरेमन ने बताया कि कार्य मानक के अनुरूप ही होगा अगर ठेकेदार मानक के अनुसार कार्य नहीं करेगा तो भुगतान नहीं किया जाएगा। वह किसी भी तरह की जांच के लिए तैयार है।

Leave a Comment