जनपद स्वास्थ्य

लीवर कैंसर गंभीर खतरा पर रोका जा सकता है : डॉ. दीपंजन

गोरखपुर, 18 जनवरी। अपोलो क्लिनिक बेतियाहाता में गुरुवार को इंद्रप्रस्थ अपोलो हॉस्पीटल्स के सीनियर कंसलटैंट ऑनकोलॉजी डा. दीपंजन पंडा ने पत्रकार वार्ता में कहा “ कैंसर के मामलों की संख्या बढ़ रही है। कैंसर के सभी मामलों में 50-60 प्रतिशत को सिर्फ आसान तरीके से रोका जा सकता है।

उन्होंने कहा कि तंबाकू से बचना, सुरक्षित सेक्स, कैंसर पैदा करने वाले आम वायरस जैसे ह्युमन पैपिलोमा और हेपेटाइटिस बी वायरस के लिए टीकाकरण और स्वस्थ जीवन शैली अपनाना जैसे स्वस्थ संतुलित भोजन और नियमित व्यायाम और बाकी 40 प्रतिशत में से कई का पता समय रहते चल जाए तो इन्हें रोका जा सकता है।”
उन्होंने कहा कि बीमारी से संबंधित भिन्न उपचार विकल्पों को भिन्न समूहों में बांटा जा सकता है और यह इस आधार पर हो सकता है कि इससे कैंसर ठीक होगा कि नहीं, इससे मरीज का बचे रहना बेहतर होगा पर बहुत आशंका है कि कैंसर खत्म नहीं होगा।

इंद्रप्रस्थ अपोलो हॉस्पीटल्स जनसंपर्क अधिकारी कुसुम सहिजपाल ने बताया कि इंद्रप्रस्थ अपोलो हॉस्पीटल्स दिल्ली सरकार और अपोलो हॉस्पीटल्स एंटरप्राइज लिमिटेड के बीच एक संयुक्त उपक्रम है जो जुलाई 1996 में कमीशन हुआ था। यह अपोलो हॉस्पीटल्स ग्रुप द्वारा स्थापित तीसरा सुपर स्पेशियलिटी टर्शियारी केयर अस्पताल है। 15 एकड़ में फैले इस अस्पताल में 57 स्पेशियलिटीज और 300 से ज्यादा स्पेशलिस्ट तथा 700 ऑपरेशनल बिस्तर हैं। अस्पताल में 19 ऑपरेशन थिएटर, 138 आईसीयू बेड, दिन रात चलने वाला फार्मैसी, एनएबीएल से मान्यता प्राप्त प्रयोगशालाएं, 24 घंटे उपलब्ध आपात सेवाएं तथा सक्रिय वायु एम्बुलेंस सेवा उपलब्ध हैं।

Leave a Comment