समाचार

विधायक के आंदोलन के आगे झुका पुलिस प्रशासन, थानेदार व दारोगा लाइन हाजिर

दारोगा से कहासुनी के बाद विधायक पर दर्ज किया था डकैती का मुकदमा, घर जाकर हंगामा भी किया
विधायक के समर्थन में बाजार बंद होने, प्रदर्शन और धरने से बैकफुट पर आई पुलिस
कुशीनगर, 20 अप्रैल। कांग्रेस विधायक अजय कुमार लल्लू के समर्थन में आंदोलन के बढ़ते दायरे ने पुलिस प्रशासन को झुका दिया। पुलिस कप्तान आज खुद विधायक द्वारा चलाए जा रहे धरने पर पहुंचे और उनसे बातचीत के बाद सेवरही के थानेदार और एक एसआई को लाइन हाजिर करने तथा उनके उपर दर्ज गंभीर धाराओं को वापस करने की घोषणा की। इसके बाद आंदोलन समाप्त हुआ।

तमकुहीराज विधायक अजय कुमार लल्लू सहित पांच लोगों पर पुलिस ने रविवार को डकैती और जान से मारने की धमकी देने के आरोप में सेवरही थाना में मामला दर्ज किया था। वाहन चेकिंग के दौरान सेवरही थाने के एक सब इंसपेक्टर द्वारा विकलांग की की पिटाई करने और फोन को अनसुना कर देने के मामले को लेकर विधायक और सब इंस्पेक्टर के बीच तीखी कहासुनी हुई थी। इसी के बाद सब इंस्पेक्टर अजीत प्रताप सिंह की तहरीर पर मामला दर्ज किया गया। विधायक का आरोप था कि पुलिस ने उनके घर जाकर उनकी अनुपस्थिति में तोड़फोड़ व हंगामा किया था।
यह जानकारी होने के बाद विधाायक के समर्थन में सेवरही बाजार सोमवार को बंद रहा। विधायक की अगुवाई में सैकड़ों लोग धरने पर बैठ गए। आज तीसरे दिन पुलिस कप्तान दीपक भट्ट मौके पर पहुंचे और उनसे धरना समाप्त करने का आग्रह किया।

उन्होंने ज्ञापन लेकर जाँच कराने की बात कही लेकिन विधायक नहीं माने। इसके बाद उन्होंने पर दर्ज डकैती और हमला करने की धाराएं हटाने तथा सेवरही के थानेदार व सब इंस्पेक्टर को लाइन हाजिर करने की घोषणा की तब विधायक ने धरना खत्म किया।

Add Comment

Click here to post a comment