राज्य

शरीयत के मामले में किसी भी तरह की दखलंदाज़ी बर्दाश्त नहीं-ओवैसी

ऑल इंडिया मजलिसे इत्तेहादुल मुसलमीन पार्टी की बलरामपुर ज़िले के पचपेड़वा में जनसभा 

 सगीर ए खाकसार

पचपेड़वा (बलरामपुर), 18 अक्टूबर। ‘ भारतीय संविधान ने सभी धर्मों को धार्मिक स्वतंत्रता का अधिकार दिया है। सब की अपनी अपनी मान्यताएं हैं।रीति व् रिवाज़ है । सभी उसका अनुपालन करने के लिए स्वतंत्र है।शरीयत के मामले में हमें किसी भी तरह की दखलंदाज़ी कत्तई बर्दाश्त नहीं है।हिन्दू विवाह एक्ट में बदलाव और परिवर्तन की बात कोई नहीं करता।’

 यह बातें ऑल इंडिया मजलिसे इत्तेहादुल मुसलमीन पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने बलरामपुर ज़िले के पचपेड़वा में एक जन सभा को संबोधित करते हुए कही। एलएमटी के ग्राउंड पर आयोजित जन सभा को संबोधित करते हुए श्री ओवैसी ने कहा क़ि पहले स्वतंत्रता ग्राम 1857 में हमारे पूर्वजों ने लहू बहाया था।आज़ादी की लड़ाई में हमने अनगिनत कुर्बानिया दी हैं। देश तो आज़ाद हो गया लेकिन बदकिस्मती ये है कि यहाँ का मुसलमान आज भी ग़ुलाम है। श्री ओवैसी ने मोदी सरकार पर भी जम कर निशाना साधा।  उन्होंने कहा क़ि संघ और भाजपा के विरोध को देश का विरोध करार दिया जा रहा है। ये सरासर गलत है।

2aabff17-baf6-4e74-97ba-2f526619bc1a

श्री ओवैसी यहीं नहीं रुके।  प्रदेश सरकार पर जम कर बरसे।उन्होंने  कहा कि परिवार में घमासान मचा हुआ है। विकास रुका हुआ है। किसानों की दुर्दशा का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि प्रदेश का किसान बदहाल है। उसका कोई पुरसा हाल नहीं है।गैसड़ी विधान सभा के पार्टी प्रत्याशी मंजूर खान ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि हम विकास के ज़रिये आर्थिक,सामाजिक,और शैक्षणिक बदलाव लाना चाहते हैं।जनता की सेवा के इरादे से ही मैं  राजनीति में आया हूँ। मुझे जिताकर सेवा का अवसर दें।

सभा को प्रदेश अध्यक्ष शौकत अली , ज़िला अध्यक्ष फैसल फरीदी, डॉ मसरूर खान,पप्पू सिद्दीकी,शहीद खान,शाकिर खान के अलावा अन्य कई लोगों ने भी संबोधित किया।  संचालन हाजी अली अहमद ने किया।

ओवैसी की जनसभा में उमड़ी भीड़ से गैंसड़ी विधान सभा के प्रत्याशी मंज़ूर खां का कद बढ़ गया है। जनसभा के बाद वह काफी उत्साह में दिखे।

Add Comment

Click here to post a comment