Templates by BIGtheme NET
Home » समाचार » सफर-ए-हज : अब 12 फरवरी तक पहली किस्त व दस्तावेज जमा कर सकेंगे जायरीन
logo_gorakhpur-news-line-2

सफर-ए-हज : अब 12 फरवरी तक पहली किस्त व दस्तावेज जमा कर सकेंगे जायरीन

– 9 प्रतिशत जीएसटी भी लगी

गोरखपुर, 31 जनवरी। हज कमेटी ऑफ इंडिया ने लॉटरी द्वारा चयनित हज यात्रियों की सहूलियत का ख्याल रखते हुए हज की पहली किस्त ( रुपया 81000 ) जमा करने की तिथि 31 जनवरी से बढ़ाकर 12 फरवरी तक कर दी है। हज के सफर की पहली किस्त के साथ ही पासपोर्ट, फोटो, मेडिकल स्क्रीनिंग व फिटनेस सर्टिफिकेट भी जमा करना है। किस्त जमा करने की स्लिप, मेडिकल स्क्रीनिंग व फिटनेस सर्टिफिकेट का प्रारूप www.hajcommittee.gov.in से डाउनलोड किया जा सकता है। उक्त वेबसाइट पर हज से सबंधित अन्य जानकारियां भी हासिल की जा सकती है।
बतातें चलें कि 22 जनवरी को लखनऊ में यूपी के हज यात्रियों की  कुर्रा अंदाजी (लॉटरी) हुई थी जिसमें गोरखपुर से 339 का खुशनसीबों का नाम लॉटरी में आया था। कमेटी ने 24 तारीख को फरमान जारी कर दिया था कि  पहली किस्त व दस्तावेज 31 जनवरी तक ही जमा होंगे। जिस वजह से हज यात्रियों में काफी बेचैनी थीं। हज कमेटी ऑफ इंडिया ने सोमवार को अपना फरमान बदल कर हज यात्रियों को काफी राहत दी है। हज कमेटी द्वारा मांगे गए दस्तावेज को पूर्ण करने के लिए जायरीन ने बैंक से लेकर डाक्टरों तक पहुंच तेज कर दी है।
काबिलेगौर इस बार नई हज पॉलिसी के तहत हज के सफर पर 9 प्रतिशत जीएसटी भी लगा दी गई है। जिस वजह से हज यात्रियों को तकरीबन रुपया 20000 का अतिरिक्त खर्च भी झेलना पड़ेगा। हालांकि इसके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई चल रही है। कोर्ट ने सरकार से जवाब तलब किया है. याचिकाकर्ताओं ने कोर्ट में कहा है कि हज एक धार्मिक यात्रा है। इस पर जीएसटी नहीं  लगानी चाहिए।

About गोरखपुर न्यूज़ लाइन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*