जनपद

सहारनपुर में दलितों पर पुनः हिंसा योगी सरकार की विफलता : माले

लखनऊ, 24 मई। भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (माले) की राज्य इकाई ने सहारनपुर में मंगलवार को दलितों पर हुए हमले व हिंसा की दोबारा घटना की कड़ी निंदा करते हुए इसे योगी सरकार और प्रशासन की घोर विफलता करार दिया है।
पार्टी राज्य सचिव सुधाकर यादव ने कहा कि योगी सरकार की कथनी और करनी में भारी विरोधाभास है। अपराधियों को सुधर जाने, उन्हें उनकी भाषा में समझाने, सभी वर्गों का समान रुप से खयाल करने जैसी योगी सरकार की बातें महज दिखावा साबित हो रही हैं। शब्बीरपुर की घटना में यदि सरकार ने न्याय किया होता और दलितों के हमलावरों को सजा दी होती, तो उनका मनोबल न बढ़ता और सामंती ताकतें पुनः हमला करने से बाज आतीं। माले नेता ने आरोप लगाया कि दबंग व सामंती शक्तियां शासन-प्रशासन से अघोषित संरक्षण पाकर सहारनपुर समेत प्रदेश में कमजोर वर्गों पर आक्रामक हो रही हैं।
राज्य सचिव ने मंगलवार की घटना में हमलावरों को गिरफ्तार करने, घायलों को मुफ्त इलाज व पीड़ितों को मुआवजा देने, प्रशासनिक विफलता की जवाबदेही तय करने और शब्बीरपुर मामले में दलितों के खिलाफ दर्ज मुकदमे रद्द करने की मांग की।

Leave a Comment