जनपद

सिसवा इस्टेट चौराहे पर मूंगफली व्यवसायी की दुकान से पौने पांच लाख की चोरी

नवागत एसओ व चौकी इंचार्ज को चोरों ने दी सलामी

सिसवा बाजार (महराजगंज), 14 फरवरी। सोमवार की रात में सिसवा कस्बे के सबसे सुरक्षित माने जाने वाले इस्टेट चौराहा गुड़ मंडी स्थित मूंगफली व्यवसायी की दूकान का ताला तोड़ कर चोरों ने दूकान में रखे पौने पांच लाख रुपए नगद व एलईडी सहित अन्य सामान चुरा कर नवागत एसओ व चौकी इंचार्ज को सलामी दे दी है।
सिसवा नगर के साहू ट्रेंडिंग कंपनी के प्रोप्राइटर हिरालाल गुप्ता जो मूंगफली के थोक व्यवसायी है। मंगलवार की सुबह 8:30बजे जब दुकान खोलने गये तो दुकान का आधा शटर खुला था. उन्होंने अंदर जा कर देखा तो आलमारी और दराज का ताला टूटा हुआ था और चोरों ने अलमारी में रखी एक लाख अस्सी हजार के सिक्के और करीब 3 लाख के नोट पर हाथ साफ कर दिया था। साथ ही दूकान में रखी एलईडी टीवी,सेटटॉप बॉक्स सहित दुकान में रखा गद्दा तक उठा ले गये। तत्काल इस घटना की जानकारी मुकामी पुलिस की दी गयी। मौके पर पहुंची पुलिस ने घटना का जायजा लिया और जल्द से जल्द चोरों को पकड़ने का आश्वासन दे कर चले गए।

चोरों के लिए सिसवा बना सेफ जोन, दर्ज़नों चोरियों का अभी तक खुलासा नही

सिसवा में बढ़ते चोरी की घटना से लोग दहशत में आ गए है। अब तक के दर्जनों चोरी की घटना का खुलासा करने में स्थानीय पुलिस अभी खुलासा भी नही कर पाई थी. तब तक चोरों ने एक और घटना को अंजाम देकर प्रशासन को चुनौती दे दी है।
सिसवा नगर चोरियों का ग्राफ लगातार बढ़ने लगा है। विगत 4 फरवरी को गोपालनगर चौराहा स्थित दिनेश टाइपिंग स्कूल में एक लाख मूल्य के लैपटॉप,एडॉप्टर सहित अन्य उपकरण चोरी हई थी। 20 दिसंम्बर को श्री राम जानकी मंदिर रोड पर स्थित ओम साईं इलेक्ट्रिक की दूकान का ताला तोड़ कर चोरों ने 2 लाख रुपये मूल्य के 12 एलईडी टीवी पर चोरों ने हाथ साफ कर दिया था। ब्लाक रोड रायपुर में 30 जनवरी को तीन दुकान कमलेश सिंह का सहज जनसेवा केंद्र से कंप्यूटर सहित अन्य उपकरण, लवकुश के बिल्डिंग मटेरियल की दूकान से नकदी व दीक्षा ड्रेसेज से रेडीमेट कपडे चुरा कर चोरों ने घटना को अंजाम दिया था।उससे पहले श्रीराम जानकी मंदिर रोड पर राजेश रेडियोज की दूकान से तीन लाख रुपय मूल्य के एसी,एलईडी सहित अन्य उपकरण चोरी गई थी।इस तरह दर्ज़नों चोरी की घटनाओं में स्थानीय पुलिस अभी तक खुलासा करने में नाकाम साबित हुई है।जिससे नगर व्यवसायियों में दहशत का माहौल है।

Skip to toolbar