समाचार

प्रशासन ने कांग्रेस जिला कार्यालय को खाली कराया

बिल्डर शोभित मोहन दास का दावा था कि भवन उनकी पैतृक संपत्ति है

कांग्रेस जिला कमेटी की अपील हाई कोर्ट में खारिज 

गोरखपुर, 4 अप्रैल। प्रशासन ने मंगलवार को दिलेजाकपुर स्थित जिला कांग्रेस कमेटी का कार्यालय खाली करा लिया। प्रशासन ने यह कार्रवाई कांग्रेस जिला कमेटी के भवन के स्वामित्व का मुकदमा हाईकोर्ट में हार जाने के बाद की। प्रशासन ने कांग्रेसियों का लगाया गया ताला तोड़कर अपना ताला लगा दिया। पूरी कार्रवाई की वीडियोग्राफी कराई गई। हाई कोर्ट ने प्रशासन को कार्यालय भवन खाली कराने का आदेश दिया था।

विजय चौक से अलीनगर जाने वाले मार्ग पर स्थित इस भवन में काफी समय से  जिला कांग्रेस का कार्यालय चल रहा था। बिल्डर शोभित मोहन दास का दावा था कि यह उनकी पैतृक संपत्ति है। भवन के स्वामित्व का मुकदमा पहले सिविल जज के न्यायालय में चला। सिविल जज ने अपने निर्णय में साफ कर दिया कि जिस भवन में जिला कांग्रेस कमेटी का कार्यालय है वह शोभित मोहन दास की है।  सिविल जज कोर्ट के निर्णय के खिलाफ जिला कांग्रेस के पदाधिकारी जिला जज के न्यायालय में गए लेकिन वहां भी मुकदमा हार गए। बाद में हाईकोर्ट में भी पार्टी ने अपील की, लेकिन वहां से भी उसे राहत नहीं मिली।

हाईकोर्ट ने जिला न्यायालय के निर्णय पर मुहर लगाते हुए कांग्रेस की अपील खारिज कर दी। कोर्ट के आदेश की कापी मिलने के बाद प्रशासन ने आज कांग्रेस का कब्जा हटाने की तिथि मुकर्रर की थी। इसके लिए सुबह से ही कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई। इसकी भनक लगते ही कांग्रेस के जिला उपाध्यक्ष मदन त्रिपाठी के नेतृत्व में कांग्रेसियों ने सुबह कार्यालय में रखी कुछ कुर्सियां एवं अन्य सामान हटा लिया था, लेकिन अनेक प्रत्याशी दोपहर बाद तक वहां इस उम्मीद में जमे थे कि शायद प्रशासन उन्हें कार्यालय खाली करने के लिए कुछ समय दे दे। इस संबंध में जिला कांग्रेस के अध्यक्ष सैयद जमाल ने कहा कि मुकदमा काफी पहले से चल रहा था।

हाइकोर्ट से राहत न मिलने पर प्रदेश नेतृत्व को प्रकरण से अवगत करा दिया था। हम सुप्रीम कोर्ट जाने की तैयारी कर रहे थे कि आज कार्यालय खाली करा लिया गया।

Add Comment

Click here to post a comment