हज कमेटी ऑफ इंडिया ने महरम कैटेगरी में 200 सीट की रिजर्व

– महरम के चयन होने की स्थिति में किन्हीं वजहों से आवेदन फॉर्म न भर पाने वाली महिलाएं 8 मई तक भर सकेंगी फॉर्म
– कुर्रा (लाटरी) के जरिए निकाला जाएगा ड्रा

सैयद फरहान अहमद
गोरखपुर, 7 अप्रैल। इस्लाम का अहम अरकान हज की अदायगी के लिए हज के मुकद्दस सफर पर जाने वालों की लिस्ट फाइनल हो चुकी है. शहर से 262 लोगों को इसका मौका भी मिला है। जो चूक गए, उन्हें अगले साल मौका मिल पाएगा। लेकिन अगर आप महिला हैं और आपके किसी भी ‘महरम’ का हज के लिए चयन हो चुका है, तो आपके पास मक्का-मदीने की जियारत करने का एक मौका और है। हज कमेटी ऑफ इंडिया ने महरम कैटेगरी में 200 सीट रिजर्व कर उन महिलाओं को एक मौका और दिया है, जो किन्हीं वजहों से आवेदन नहीं भर सकीं थी। ऐसी महिलाएं 8 मई तक आवेदन फॉर्म भरके अपने महरम के साथ हज के सफर को जा सकती हैं।

हज कमेटी ऑफ इंडिया ने सर्कुलर जारी कर इस आदेश के बारे में जानकारी दी है। कमेटी ने साफ किया है कि ऐसी महिलाएं, जिनके महरम का चयन हज के लिए हो चुका है और पासपोर्ट न होने या तारीख बीत जाने की वजह से आवेदन नहीं कर पाई थीं, वह इसके लिए आवेदन कर सकती हैं। इसमें शर्त यह है कि उनके महरम का चयन इस बार हज के लिए हुआ हो। फॉर्म भरने के दौरान उन्हें हज आवेदन फॉर्म पर अपने महरम का कवर नंबर देना होगा। इसका ड्रॉ कुर्रा के जरिए ही निकाला जाएगा।

हज कमेटी ने जहां एलिजिबल महिला के लिए 8 मई तक गाइड लाइन तय की है, वहीं उन्होंने प्रदेश हज कमेटी को गाइडलाइंस के सापेक्ष ईमानदारी से जांच करने के बाद 15 मई तक फॉर्म हज कमेटी ऑफ इंडिया को भेजने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने साफ किया है कि अगर कोई डिफॉल्ट या गलत केस पाया जाता है, तो इसकी पूरी जिम्मेदारी संबंधित हज कमेटी या यूनियन टेरिटरी हज कमेटी की होगी। हज कमेटी मेरिट के सापेक्ष इसका ड्रा करेगी। वहीं अगर आवेदन फॉर्म की तादाद ज्यादा होती है तो इसका रिजल्ट भी कुर्रा के जरिए निकाला जाएगा।

Leave a Comment

Skip to toolbar