हज यात्रा के लिए 339 लोगों का चयन

 18000 रूपया महंगा हुआ हज का सफर
गोरखपुर, 23 जनवरी। मुकद्दस हज  के लिए कुर्रा अंदाजी (लाॅटरी) में नाम आने के बाद आवेदकों की खुशी का ठिकाना नहीं है। लखनऊ में हज यात्रियों का कम्पयूटराइज कुर्रा हुआ है जिसमें की 145 कवर पर 339 लोगों का चयन हुआ है। हज के लिए 600 लोगों ने आवेदन किया था लेकिन 339 की ही आरजू पूरी हो सकी।

रिजर्व कटैगरी व मेहरम कैटगरी के आंकड़े अभी नहीं मिले हैं। इस बार ग्लोबल टेंडर न होने की वजह से हज यात्रियों को 18000 रुपया अतिरिक्त देना पड़ेगा। वर्ष 2016 में 230 लोग और वर्ष 2017 में 286 लोग हज यात्रा पर गए थे।

गोरखपुर से हज यात्रा पर जाने के लिए कुर्रा अंदाजी में पहला नाम पिपरापुर के मो. राजिक का निकला है। राजिक अपनी पत्नी शबनम बानो के साथ मुकद्दस हज के सफर पर जायेंगे। शाहमारुफ में बिजनेस करने वाले राजिक बेहद खुश है और अल्लाह का शुक्र अदा कर रहे है। बातचीत में राजिक कहते है कि जब से उन्हें मोबाइल एसएमएस द्वारा सूचना मिली है तब से उनके घर में खुशी का माहौल है। दूर-दराज के रिश्तेदार जहां फोन द्वारा मुबारकबाद पेश कर रहे है वहीं पास वाले घर आकर हमारी खुशियों में ना सिर्फ शमिल हो रहे है बल्कि अपने लिए दुआं की दरख्वास्त कर रहे है।

Leave a Comment

Skip to toolbar