जनपद

⁠⁠सातवीं बार टूटा महाव तटबंध, आधा दर्जन गांवों में घुसा बाढ़ का पानी

महाव नाला का तटबंध पहली बार टूटने के बाद की स्थिति (फाइल फोटो)

बार-बार तटबंध टूटने से क्षेत्रीय जनता में आक्रोश

आर एन शर्मा

महराजगंज , 3 अगस्त। महाव नाले का पश्चिमी तटबंध गुरूवार को टूट गया। एक बार फिर आधा दर्जन गांवों में बाढ़ का पानी घुस गया है जिससे ग्रामीणों को काफी दिक्कत उठानी पड़ रही है।
नेपाल में हुई बारिश की वजह से गुरुवार को सायं सवा चार बजे कोहरगड्डी गाँव के पार महाव नाले का पश्चिमी तटबंध टूट गया जिससे कोहरगड्डी, छितवनिया, खैरहवा सहित आधा दर्जन गाँवों में पानी घुस गया और  जबकि सैकड़ों एकड़ फसल जलमग्न हो गई।
गाँव में पानी घुसने से जहां ग्रामीणों को दुश्वारियों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं अपनी फसल की बर्बादी देख किसान परेशान हैं।
ग्रामीणों ने महाव तटबंध मरम्मत में सिंचाई विभाग द्वारा बरती जा रही लापरवाही व उदासीनता पर आक्रोश व्यक्त किया है। ग्रामीणों का आरोप है कि जब जब पहाड़ पर भारी बारिश होती है इसका खामियाजा क्षेत्रीय जनता व किसानों को भुगतना पड़ता है । अगर समय रहते इसका स्थाई हल नहीं निकाला गया तो यहां के किसान बार तबाही के शिकार होंगे।

Leave a Comment