समाचार

⁠⁠⁠आक्सीजन की कमी से बच्चों की मौत राष्ट्रीय त्रासदी, सरकार जिम्मेदार-राहुल गांधी

गोरखपुर, 20 अगस्त। कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि बीआरडी मेडिकल कालेज में आक्सीजन की कमी राष्ट्रीय त्रासदी है। यह घटना हमारे हेल्थ केयर सिस्टम की स्थिति को दर्शाती है। इस त्रासदी के लिए सरकार जिम्मेदार है।
उन्होंने कहा कि हमें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का वह न्यू इंडिया नहीं चाहिए जिसमें अस्पताल में इस तरह की घटनाएं हों। हमें वह न्यू इंडिया चाहिए जिसमें गरीब लोगों के बच्चों का अस्पताल में ठीक से इलाज हो और बच्चे स्वस्थ होकर घर लौटें।
गोरखपुर के दौरे पर आए राहुल गांधी ने 10 और 11 अगस्त की रात बीआरडी मेडिकल कालेज में आक्सीजन संकट के कारण अपने बच्चों को खोने वाले लोगों से मिले। उनका बीआरडी मेडिकल कालेज जाने का भी कार्यक्रम था लेकिन उन्होंने इसे यह कहकर टाल दिया कि वहां जाने से मरीजों के इलाज में व्यवधान होगा और लोगों को तकलीफ होगी।
होटल क्लार्क में पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि बीआरडी मेडिकल कालेज में बच्चों की मौत आक्सीजन की कमी से ही हुई है। हमें परिजनों ने बताया कि आक्सीजन खत्म हो गया था और उन्हें अम्बू बैग से बच्चों को आक्सीजन देने को कहा गया। राहुल गांधी ने कहा कि लापरवाही से यह घटना हुई है और मुख्यमंत्री को इस छिपाना नहीं चाहिए और कार्रवाई करें।
उन्होंने कहा कि पिछले वर्ष वह बीआरडी मेडिकल कालेज आए थे तब देखा था कि यहां फंड की कमी है। उन्होंने इस बारे में प्रधानमंत्री मोदी को पत्र लिखकर बीआरडी मेडिकल कालेज की मदद करने को कहा था लेकिन उन्होंने कुछ नहीं किया।
इसके पहले राहुल गांधी ने गोरखपुर जिले के बाघागाड़ा गांव में ब्रह्मदेव यादव से मिले जिनके जुड़वा नवजात शिशुओं की मौत हो गई थी। ब्रह्मदेव ने बताया कि शादी के आठ वर्ष बाद जुड़वा बच्चे हुए थे। घर में खुशी का माहौल था लेकिन 10 दिन बाद ही उन्ही मासूमों की मौत के बाद हम भी सदमे में है। राहुल गांधी ने ब्रहमदेव यादव और उनके घर के लोगों को ढांढस बंधाया। राहुल गांधी बसरौली और खुटहना गांव भी गए और परिजनों से मिले।

Add Comment

Click here to post a comment