समाचार

ट्रक से कुचलकर भांजे की मौत, मामा गंभीर रूप से घायल

विशाल की मौत की खबर मिलने पर बिलखते परिजन

सिसवा बाजार (महराजगंज). कोठीभार थाना क्षेत्र के ग्राम सभा सबया में 22 अप्रैल को बाइक सवार मामा-भांजे को एक ट्रक ने कुचल दिया. भांजे की घटना स्थल पर ही मौत हो गई जबकि मामा गंभीर रूप से घायल है.

रविवार की दोपहर में 12:30 बजे सिसवा से इन्वर्टर बना कर बाइक से निचलौल जा रहे मामा-भांजे को ग्राम सबया फायर स्टेशन के समीप एक ट्रक ने रौंद दिया। जिसमें एक कि दर्दनाक मौत हो गई और दूसरा गंभीर रूप से घायल हो गया। मृतक का पहचान निचलौल थाने के ग्राम सभा बरुहियां निवासी विशाल पाठक पुत्र वशिष्ठ मुनि पाठक (18) के रूप में हुआ. घायल सूर्यवंश पुत्र जनार्दन मिश्र चौक थाना ग्रामसभा हरपुर का निवासी है।सूर्यवंश के पिता का कहना है कि उनका बेटा निचलौल के चिउटहां रोड पर इन्वर्टर बैटरी का दुकान करता है। वह अपने मौसेरी बहन के बेटे के साथ सिसवा में इन्वर्टर कम्प्लेन ठीक करने आया था और निचलौल वापस जाते समय ये दुर्घटना हो गई. मौके पर कोठीभार पुलिस ने शव और ट्रक को अपने कब्जे ले लिया.

घायल को उपचार के लिए सिसवा पीएचसी भेजा गया जहां घायल की गंभीरता को देखते हुए इलाज़ के लिए संयुक्त अस्पताल महराजगंज रेफर कर दिया गया है।एसओ अरुण कुमार राय का कहना है कि ट्रक पुलिस के कब्जे में है ड्राइवर से पूछ ताछ चल रही है.

बुझ गया घर का इकलौता चिराग,धरा रह गया इंजीनियर बनाने का सपना

निचलौल थाने के ग्रामसभा बरुहिंया निवासी वशिष्ठ मुनि पाठक के घर जब ये समाचार पहुंचा कि उनका इकलौता घर का चिराग और चार बहनों का छोटा भाई अब इस दुनिया मे नही रहा तो घर से लेकर पूरे  गांव में कोहराम मच गया।
किसान माता-पिता व चार बहनों के आंखों ने एक सपना देखा था कि उसके घर का होनहार बेटा उनके आंखों का तारा एक दिन इंजीनियर बन कर सबके सपनो को साकार करेगा और घर के सारे दुख दूर कर देगा। परन्तु नियति को तो शायद कुछ और ही मंजूर थी। कौन जनता था कि ये चिराग सबके सपनो पर पानी फेर कर इतनी जल्दी बुझ जाएगा।

विशाल बाली इंटर कॉलेज में कक्षा बारहवीं की छात्र था साथ ही रमा टेक्निकल इंस्टीट्यूट से आईटीआई कर रहा था और फुर्सत के छड़ो में अपने माँ के मौसेरे भाई के दुकान पर जाकर इन्वर्टर का काम भी सीखा करता था।रविवार को अवकाश के वजह से वह अपने मामा सूर्यवंश के साथ सिसवा इन्वर्टर कम्प्लेन ठीक करने चला गया था और वापस लौटे समय ये हादसा हो गई। जब इस घटना का समाचार मृतक के घर पहुंचा तो माँ अनपूर्णा सुन कर मूर्छित हो गई।घर मे कोहराम मच गया।

विशाल से दो छोटी बहने निधि और साक्षी अपने भाई के इंतज़ार में दरवाजे पर टकटकी लगाए बैठी थी.  बड़ी बहन पूजा और ज्योति की शादी हो चुकी है। वह अपने भाई के कपड़ो को सीने से लगा कर पुकार रही थी। देखने वाले भी इस ह्रदयविदारक दृश्य देख कर अपने आंसू नही रोक पा रहे थे।

सड़क निर्माण में देरी बन रही दुर्घटना का कारण

सिसवा-निचलौल मार्ग  पर निर्माण कार्य कच्छप गति से चलने के कारण मार्ग दुर्घटनाएं बढ़ गई हैं जिसको लेकर ग्रामीणों में काफी आक्रोश है।
ग्रामीणों की शिकायत है कि सिसवा-निचलौल मार्ग पर चौड़ीकरण को लेकर विगत वर्ष से ही निर्माण कार्य चल रहा है. मार्ग पर गिट्टी व मिट्टी बिछा दी गई है. ठेकेदार द्वारा इस पर पानी की छिड़काव नही होने से तेज हवा के कारण मिट्टी उड़ कर वाहन चालकों के आंखों में चला जाता है और गाड़ी के बैलेंस बिगड़ने के वजह से आये दिन इस रूट पर मार्ग दुर्घटनाये हो रही हैं. इस मार्ग पर जब तक निर्माण कार्य पूरा नही हो जाता तब तक पानी के छिड़काव की ग्रामीणों ने मांग की है।

Leave a Comment

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz