समाचार

शोध पात्रता परीक्षा के लिए एक सप्ताह में 2295 आवेदन, सबसे अधिक शिक्षा शास्त्र और हिंदी में

गोरखपुर. दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय की शोध पात्रता परीक्षा के लिए एक सप्ताह में 2295  अभ्यर्थियों ने ऑनलाइन किया है ।आवेदन की अंतिम तिथि 24 जनवरी है ।

शोध पात्रता परीक्षा (रेट ) के समन्वयक प्रो हर्ष कुमार सिन्हा ने बताया कि 4 जनवरी से प्रारंभ ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया के एक सप्ताह सप्ताह पूरा होने तक 2295 अभ्यर्थियों ने आवेदन कर दिया है ।अभी तक सबसे ज्यादा आवेदन शिक्षा शास्त्र विषय के हैं जहां 255 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया है । इसके अलावा हिंदी में 203 ,वाणिज्य में 198 ,भूगोल में 153 ,राजनीति विज्ञान में 146 और समाजशास्त्र में में 111 आवेदन किए जा चुके हैं । विज्ञान विषयों में अब तक वनस्पति विज्ञान में 82 ,प्राणी विज्ञान में 81, गणित में 79 और रसायन विज्ञान में 71 आवेदन भरे गए हैं ।

प्रो सिन्हा ने बताया की अभ्यर्थियों द्वारा हेल्पलाइन पर मुख्य रूप से दो तरह की जिज्ञासाए व्यक्त की गई है। पहला यह कि क्या एक से अधिक विषयों में इस अधिक विषयों में इस परीक्षा के लिए आवेदन किया जा सकता है। इस संबंध में उन्हें सूचित किया गया है कि एक से अधिक विषयों में स्नातकोत्तर उपाधि धारक अभ्यर्थी एकाधिक विषयों में भी आवेदन कर सकते हैं उस पर कोई प्रतिबंध नहीं है।

इसके अलावा कुछ विद्यार्थियों ने यह भी जानना चाहा है की क्या स्नातकोत्तर अंतिम वर्ष के अध्ययनरत विद्यार्थी भी इस शोध पात्रता परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं इस संबंध में पहले भी स्पष्ट किया जा चुका है कि ऐसे सभी विद्यार्थी इस परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि यद्यपि वेबसाइट पर शोध पात्रता परीक्षा से संबंधित नियमों और प्रक्रियाओं की सरल निर्देशिका मौजूद है इसके बावजूद यदि किसी भी अभ्यर्थी को नियमों और प्रक्रियाओं के विषय में कोई कठिनाई होती है तो उसे हेल्पलाइन पर दिए गए ईमेल पते पर अपनी जिज्ञासा भेज देनी चाहिए ताकि उसका उत्तर दिया जा सके।

Leave a Comment