स्वास्थ्य

पोस्टल बैंक में खुलेगा क्षय रोगियों का खाता

महराजगंज. बैंक एकाउंट विहीन क्षय रोगियों का खाता अब पोस्टल बैंक में शून्य वैलेंस पर खोला जाएगा।

प्रभारी जिला क्षय रोग अधिकारी डाक्टर सीमा राय ने सभी सीएचसी, पीएचसी को पत्र लिख कर कहा है कि पुनरीक्षित राष्ट्रीय क्षय रोग नियंत्रण कार्यक्रम के अंतर्गत निक्षय पोषण योजना के तहत क्षय रोगियों को डीबीटी के माध्यम से भुगतान किया जा रहा है। ऐसे में सभी क्षय रोगियों का बैंक एकाउंट जरूरी है।

उन्होंने बताया कि शासनादेश के मुताबिक पोस्टल बैंक के कर्मचारी क्षय रोगियों का खाता शून्य वैलेंस पर खोलेंगे। इसके लिए आधार कार्ड ले जाना होगा। अगर आधार कार्ड उपलब्ध नहीं है तो अन्य दस्तावेजों के माध्यम से भी खाता खुल सकता है।

अगर कोई क्षय रोगी चलना फिरने में असमर्थ है तो बैंक कर्मी उसके घर जाकर खाता खोलेंगे। इतना ही नहीं क्षय रोगियों को जमा निकासी की भी सुविधा उसके घर पर मुहैया कराने की व्यवस्था होगी।

जिला क्षय रोग नियंत्रण कार्यक्रम के जिला कार्यक्रम समन्वयक हरि शंकर त्रिपाठी ने बताया कि जिले में 1800 क्षय रोगी दवा ले रहे हैं, इनमें से अभी करीब दो सौ मरीजों का बैंक एकाउंट नहीं है।

ऐसे सभी क्षय रोगियों को कहा गया है कि वे पोस्टल बैंक में अपना खाता खोलना लें ताकि उन्हें समय से भुगतान मिलता रहे।
नौ सितंबर को शिविर लगाकर खुलेगा खाता
पोस्टल बैंक के शाखा प्रबंधक अमित सिंह ने कहा कि आगामी नौ सितंबर को शिविर लगाकर खाता खोला जाएगा।

क्या है निक्षय पोषण योजना

सरकार क्षय रोगियों को इलाज के दौरान पोषण आहार के लिए पोषण भत्ता के रूप में हर महीना 500 रुपये देती है। यह सहायता राशि सीधे क्षय रोगी के खाते में भेजने का प्राविधान है। इस योजना का लाभ उन मरीजों को नहीं मिलेगाो जो इलाज अधूरा छोड़ देंगे या निर्धारित समय पर जांच कराने नहीं आते हैं।

Leave a Comment

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz