समाचार

संविधान की प्रतियां जलाए जाने के खिलाफ पूर्वांचल सेना ने आक्रोश प्रदर्शन किया

गोरखपुर. देश की राजधानी दिल्ली के जंतर मंतर पर पुलिस की मौजूदगी में संविधान की प्रतियां जलाए जाने के खिलाफ आज पूर्वांचल सेना ने गोरखपुर में आक्रोश प्रदर्शन किया.

गोरखपुर के अंबेडकर चौक पर सुबह 10 बजे से लेकर दोपहर एक बजे तक चले इस आक्रोश प्रदर्शन के दौरान “संविधान विरोधियों -भारत छोड़ो ” , “संविधान जिंदाबाद” , “लोकतंत्र- जिंदाबाद”, “संविधान का अपमान नहीं सहेंगे”, “संविधान का अनादर करने वालों को जेल भेजो ” जैसे नारे लगते रहे.

विरोध प्रदर्शन में शामिल प्रदर्शनकारियों का कहना था कि जंतर मंतर पर भारी संख्या में पुलिस बल मौजूद होता है और जंतर मंतर दिल्ली के हाई सिक्योरिटी जोन में आता है. इसके बावजूद वहां अराजक तत्वों द्वारा संविधान की प्रतियों को जला दिया गया और पुलिस ने कोई कार्यवाही नहीं की . दुखद है कि आज भी संविधान की प्रतियों को जलाते हुए देश के संविधान के प्रति अपमानजनक टिप्पणी करने वाले खुलेआम घूम रहे हैं .

विरोध प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे पूर्वांचल सेना के जिलाध्यक्ष सुरेंद्र बाल्मीकि ने कहा कि संविधान का अपमान देश और हर भारतीय का अपमान है. हम इसे किसी भी हाल में बर्दाश्त नहीं कर सकते हैं.
विरोध प्रदर्शन में मौजूद पूर्वांचल सेना के अध्यक्ष धीरेंद्र प्रताप ने कहा कि समता, स्वतंत्रता, न्याय और बंधुत्व की अवधारणा देने वाला भारतीय संविधान दुनिया का सबसे बड़ा और महान संविधान है. भारतीय संविधान हमारे देश की आत्मा है और बिना ऊपरी संरक्षण के किसी भी व्यक्ति या संगठन के द्वारा उसे जलाने की हिमाकत नहीं कर सकता. उन्होंने कहा कि जिस प्रकार से केंद्र में बैठी भारतीय जनता पार्टी की सरकार एक- एक करके संवैधानिक अधिकारों पर कुठाराघात कर रही है वैसे- वैसे संविधान और लोकतंत्र में विश्वास नहीं रखने वाले लोगों का मनोबल बढ़ता जा रहा है.

प्रोफेसर दुर्गा प्रसाद यादव ने कहा कि सरकार में बैठे जिम्मेदार लोग छोटी-छोटी बातों पर ट्वीट करके अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हैं लेकिन आज हमारे देश के संविधान को दिनदहाड़े अराजक तत्वों द्वारा जला दिया गया लेकिन इनके कानों पर जूं नहीं रेंग रही है . उन्होंने कहा संविधान अथवा लोकतंत्र पर हमला होने पर चुप्पी होने का मतलब सहमति होना होता है, खासकर जब आप के हाथ में सत्ता हो । उन्होंने कहा कि संविधान का अपमान करने वालों पर कड़ी कार्यवाही नहीं हुई तो देशव्यापी आंदोलन होगा.
इस अवसर पर अमित सिंघानिया, सोनू सिद्धार्थ, संजय यादव, मुकेश कुमार, अरविंद कुमार, सोनू बौद्ध , प्रदीप कुमार, राजकुमार, सनी कुमार निषाद, साहिल कुमार, मंजेश कुमार, नितेश कुमार, अंकित कुमार, दीपक कुमार, योगेंद्र प्रताप, ई०अखंड मित्रा, पंकज कुमार गौतम, अभय प्रजापति, राजेंद्र प्रसाद, भास्कर चौधरी, सतेंद्र भारती, सचिन कुमार, दिव्यमान, प्रशांत कुमार, अमित सिंघानिया, सोमनाथ, सुनील चौहान, मनीष कुमार, विशाल राव, हरिकेश कुमार, दिनेश कुमार यादव, तारिक आलम, अमरजीत प्रसाद, विजेंद्र अग्रहरि, एडवोकेट उदय चंद राज समेत भारी संख्या में पूर्वांचल सेना के सदस्य उपस्थित रहे।

Leave a Comment

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz