जनपद

एंटी करप्शन की टीम ने लेखपाल को 20 हजार रुपये रिश्वत लेते पकड़ा

फोरलेन में अधिगृहीत जमीन का मुआवजा दिलाने को काश्तकार से मांगे थे 40 हजार
काश्तकार ने की थी गोरखपुर के एंटी करप्शन विभाग को शिकायत

गोरखपुर, 4 अगस्त; एंटी करप्शन गोरखपुर की टीम ने राजस्व विभाग के एक लेखपाल को चौरीचौरा में एक काश्तकार से 20 हजार रुपया रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया. पीड़ित काश्तकार की शिकायत पर यह कार्रवाई की गयी.

एंटी करप्शन विभाग से गोरखपुर न्यूज लाइन को मिली जानकारी के अनुसार बासगांव के भैसही गांव निवासी दिलीप शुक्ला ने विभाग से शिकायत की थी कि लेखपाल रामकिशुन ने फोरलेन के लिये अधिगृहीत उनकी भूमि का मुआवजा भुगतान कराने के एवज में उनसे 40 हजार रुपये की रिश्वत मांगी थी. एंटी करप्शन टीम की योजना के अनुसार लेखपाल को रंगेहाथ पकड़ने की रणनीति तैयार की गयी. चौरीचौरा के पास फुटवहा इनार में एक मिठाई की दुकान पर रिश्वत की रकम देना तय हुआ. दो हजार के दस नोट पर रसायन लगा दिये गये. 3 अगस्त की दोपहर ढाई बजे जैसे ही लेखपाल ने रकम थामी आसपास मौजूद एंटी करप्शन विभाग की टीम ने उसे दबोच लिया.

एंटी करप्शन टीम के प्रभारी की तहरीर पर लेखपाल के विरूद्ध भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम की विभिन्न धाराओं में चौरीचौरा थाना में मुकदमा दर्ज कर लिया गया. आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है.

Leave a Comment